क्रिकेटखेल

रोमांचक मुकाबले में चेन्नै पर भारी केकेआर, 10 रनों से मारा मैदान

अबु धाबी
इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के एक रोमांचक मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स ने चेन्नै सुपर किंग्स को 10 रनों से हरा दिया। मैच में कोलकाता ने पहले बैटिंग करते हुए सभी विकेट खोकर 167 रन बनाए थे। उसके लिए सबसे अधिक मैन ऑफ द मैच राहुल त्रिपाठी ने 81 रन बनाए थे। जवाब में शेन वॉटसन ने चेन्नै को अच्छी शुरुआत भी दी और टीम शुरुआत 10 ओवरों में आगे भी चल रही थी, लेकिन आखिरी के 10 ओवरों में केकेआर ने जोरदार कमबैक किया और मैच 10 रनों से अपने नाम कर लिया। चेन्नै की टीम 5 विकेट पर 157 रन बना सकी। केकेआर की यह 5 मैचों में तीसरी जीत है और वह पॉइंट टेबल में मुंबई और दिल्ली के बाद तीसरे नंबर पर पहुंच गई है।

अच्छी शुरुआत के बाद फाफ डु प्लेसिस हुए आउट
168 रनों का पीछा करने उतरी चेन्नै सुपर किंग्स को शेन वॉटसन और फाफ डु प्लेसिस ने अच्छी शुरुआत दी। हालांकि, पिछले मैच में फिफ्टी जड़ने वाले डु प्लेसिस 10 गेंदों में महज 17 रन बना सके। उन्हें युवा तेज गेंदबाज शिवम मावी ने विकेटकीपर दिनेश कार्तिक के हाथों कैच कराया। इसके बाद शेन वॉटसन और अंबाती रायुडू ने मोर्चा संभाला और टीम को आगे ले गए।

वॉटसन और रायुडू के बीच 69 रनों की पार्टनरशिप
इस दौरान रायुडू जहां संभलकर खेलते दिखे तो पंजाब के खिलाफ फिफ्टी जड़कर फॉर्म पाने वाले वॉटसन अपने अंदाज में नजर आए। उन्होंने कमिंस और मावी पर खूब रन बटोरे। टीम का स्कोर 99 रन था तभी कमलेश नागरकोटी को बड़ी हिट लगाने के चक्कर में अंबाती रायुडू (30 रन, 27 गेंद, 3 चौके) शुभमन गिल के हाथों लपक लिए गए। उनके और वॉटसन के बीच दूसरे विकेट के लिए 69 रनों की साझेदारी हुई।

धोनी टॉप ऑर्डर में आए, वॉटसन फिफ्टी जड़ हुए आउट
रायुडू के आउट होने के बाद कप्तान धोनी खुद टॉप ऑर्डर पर उतरे। इस दौरान शेन वॉटसन ने 13वें ओवर की आखिरी गेंद पर सिंगल लेकर 39 गेंदों में हाफ सेंचुरी पूरी की। इस सीजन में यह उनकी लगातार दूसरी हाफ सेंचुरी रही। हालांकि, अगला ओवर करने आए सुनील नरेन ने उन्हें पहली ही गेंद पर LBW करते हुए चेन्नै को तीसरा झटका दे दिया। वॉटसन ने 40 गेंदों में 6 चौके और एक छक्का लगाया। 

धोनी ने फिर किया निराश, वरुण की गेंद पर बोल्ड
टूर्नमेंट की शुरुआत से ही पूर्व भारतीय कप्तान एमएस धोनी से चौके-छक्के की बरसात की उम्मीद लगाने वाले फैन्स को एक बार फिर निराश होना पड़ा। उन्हें वरुण चक्रवर्ती ने अपनी लहराती गेंद पर धोनी को बोल्ड कर दिया। यहां से केकेआर को वापसी हो गई। सैम करन (17) को आंद्रे रसल ने चलता किया। यही नहीं, रसेल ने पारी के 18वें ओवर में सिर्फ 3 रन देते हुए CSK पर दबाव बना दिया।

आखिरी 12 गेंदों में चाहिए थे 36 रन
आखिरी के दो ओवरों में सीएसके को जीत के लिए 6 रन चाहिए थे। मैदान पर रविंद्र जडेजा और केदार जाधव थे। 19वां ओवर करने आए सुनील नरेन ने अच्छी गेंदबाजी की और सिर्फ 10 रन ही बनाने दिए। इसके बाद आंद्रे रसल आखिरी ओवर करने आए। इस ओवर में जडेजा ने दो चौके और एक सिक्स जरूर लगाए, लेकिन टीम को जीत नहीं दिला सके। केकेआर के लिए शिवम मावी, वरुण चक्रवर्ती, कमलेश नागरकोटी, सुनील नरेन और आंद्रे रसल ने एक-एक विकेट झटका।

केकेआर की पारी का रोमांच
इससे पहले सलामी बल्लेबाज राहुल त्रिपाठी (81) के शानदार अर्धशतक के बावजूद चेन्नै सुपर किंग्स ने गेंदबाजों के उम्दा प्रदर्शन से कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) को 167 रन पर समेट दिया। त्रिपाठी ने 51 गेंद में आठ चौके और तीन छक्के की मदद से 81 रन बनाए, लेकिन उन्हें दूसरे छोर से अच्छा साथ नहीं मिला। उनके अलावा नाइट राइडर्स का कोई बल्लेबाज 20 रन के आंकड़े को भी नहीं छू पाया। सुपर किंग्स की ओर से बर्थडे बॉय ड्वेन ब्रावो ने 37 रन देकर तीन जबकि कर्ण शर्मा ने 25, सैम करन ने 26 और शार्दुल ठाकुर ने 28 रन देकर दो-दो विकेट चटकाए। नाइट राइडर्स की टीम अंतिम 10 ओवर में 74 रन ही जोड़ सकी।

गिल सस्ते में हुए आउट
कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान दिनेश कार्तिक ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया जिसके बाद त्रिपाठी और शुभमन गिल की सलामी जोड़ी ने टीम को सतर्क शुरुआत दिलाई। त्रिपाठी ने दीपक चाहर के शुरुआती दो ओवर में तीन चौके मारे जबकि गिल ने भी चौका जड़ा। गिल हालांकि अधिक देर नहीं टिक सके और 11 रन बनाने के बाद शार्दुल की गेंद पर विकेटकीपर धोनी को कैच दे बैठे। नीतीश राणा का भी भाग्य ने साथ दिया जब शार्दुल की गेंद उनके बल्ले का बाहरी किनारा लेकर चार रन के लिए चली गई।

त्रिपाठी की जोरदार फॉर्म
त्रिपाठी ने चाहर पर पारी का पहला छक्का जड़ा और फिर कर्ण शर्मा का स्वागत छक्के के साथ किया। नाइट राइडर्स ने पावर प्ले में एक विकेट पर 52 रन बनाए। राणा हालांकि कर्ण की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने की कोशिश में बाउंड्री पर रविंद्र जडेजा को आसान कैच दे बैठे। उन्होंने नौ रन बनाए। त्रिपाठी ने ब्रावो पर चौके के साथ 31 गेंद में अर्धशतक पूरा किया जबकि सुनील नरेन (17) ने इसी ओवर में लगातार गेंदों पर छक्का और चौका जड़ा।

नरने का शानदार कैच जडेजा-डु प्लसिस ने लपका
नरेन इसके बाद बाउंड्री पर शानदार कैच का शिकार बने। उन्होंने कर्ण की गेंद को उठाकर मारा लेकिन जडेजा ने दौड़ते हुए गेंद को थाम लिया लेकिन जब सीमा रेखा के करीब पहुंचने लगे तो इसे फाफ डु प्लेसिस की ओर बढ़ा दिया जिन्होंने इसे कैच में तब्दील किया। इयोन मोर्गन ने शार्दुल पर चौके के साथ खाता खोला और 12वें ओवर में टीम के रनों का शतक पूरा किया। सुपर किंग्स के गेंदबाजों ने बीच के ओवरों में रन गति पर अंकुश लगाया।

फिर दिग्गज यूं लौटते गए
इयॉन मॉर्गन (07) कुछ खास नहीं कर सके। त्रिपाठी ने नए स्पैल के लिए आए चाहर पर चौके और छक्के के साथ रन गति बढ़ाने का प्रयास किया लेकिन आंद्रे रसल (2) शार्दुल की गेंद पर धोनी को कैच दे बैठे। त्रिपाठी ने ब्रावो पर चौका जड़ा लेकिन इसी तेज गेंदबाज की गेंद पर स्लिप में शेन वॉटसन को कैच दे बैठे। उन्होंने 51 गेंद का सामना करते हुए आठ चौके और तीन छक्के मारे। पैट कमिंस (नाबाद 17) ने शार्दुल पर चौके और छक्के के साथ 18वें ओवर में टीम का स्कोर 150 रन के पार पहुंचाया। करन ने कार्तिक को आउट किया जबकि ब्रावो ने कमलेश नागरकोटी और शिवम मावी को पविलियन भेजा।
 

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close