भोपालमध्यप्रदेश

शराब के नशे दिखने वाले नजारे की बाधा बनेगी एमव्हीएम की दो मंजिला लैब

भोपाल  
मोतीलाल विज्ञान कालेज में दो मंजिला लैब तैयार हो रही है। लैब अपना पूरा आकार नहीं ले सके, जिसके लिए विभाग के प्रमुख सचिव से लेकर सूबे मुख्य सचिव तक बात पहुुंच गई है। क्योंकि मिंटो हाल के बार में बैठकर सरकारी अफसर और रहीसजादे सोमरस का आनंद लेते हैं। इस दौरान उन्हें छोटी झील का नाजार दिखता है, जो काफी आकर्षित करता है। लैब के तैयार होने से उन्हें ये नजारा नहीं दिखाई देगा। इसलिए लैब को छोटा करने पर जोर दिया जा रहा है।

एमव्हीएम में वर्ल्ड बैंक से मिले सात करोड की लागत से फिजिक्स, कैमिस्ट्री, जूलाजी और बाटनी की दो मंजिला लैब तैयार हो रही है। सात करोड़ से तैयार लैब मई तक तैयार हो जाएगी। इसे सीपीए तैयार करा रहा है। लैब मिंटो हाल की पीछे की दिवार से लगी हुई है। उसका फाउंडेशन तैयार हो गया है, जिसमें करीब एक करोड़ रुपए खर्च हो चुके हैं। इसकी जानकारी जब मिंटो हाल में संचालित होटल और बार मैनेजर और जनरल मैनेजर को चली, तो कालेज प्रबंधन से मिलने पहुंच गए। उन्होंने लैब को छोटा करने की बात कह डाली। यहां तक उन्होंने बताया कि जब मिंटो हाल में पार्टी होती है और लोग शराब के नशे में रहते हैं, तो उन्हें छोटी झील का नजारा काफी आकर्षित लगता है। दो मंजिला लैब तैयार होने से बार में बैठे या पार्टी में शामिल लोगों को छोटी झील का नजारा दिखाई नहीं देगा। कालेज प्रबंधन ने उनकी बातों पर कोई गौर नहीं किया है। काम चलता देख होटल जनरल मैनेजर उसे रुकवाने सभी प्रयास कर रहे हैं।

पीएस तक ले चुके हैं बैठक
उच्च शिक्षा प्रमुख सचिव अनुपम राजन तक लैब को हटाने की बात पहुंच चुकी है। इस संबंध में मिंटो हाल में एक बैठक तक कर चुके हैं। जानकारी के मुताबिक सीएस इकबाल सिंह बैस को लैब की ऊंचाई कम करने की बात कही गई है। हालांकि उनकी तरफ से अभी तक कोई सूचना जारी नहीं की गई है। पीएस राजन का कहना है कि अभी तक भवन के आकार के परिवर्तन को लेकर कोई निर्णय नहीं लिया गया है। कालेज में पढने वाले विद्यार्थी और होटल की व्यवस्था को लेकर उचित निर्णय लिया जाएगा।

विद्यार्थियों पर पड़ेगा बुरा असर
प्रोफेसरों का कहना है कि मिंटो हाल में बैठकर लोग शराब पीते हैं। इसका असर विद्यार्थियों पर पड़ेगा। इसलिए मिंटो हाल में पार्टी और बार को बंद करना चाहिए।
कलारी बंद तो बार कैसे चला रहा

विद्यार्थियों का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट ने स्कूल और कालेजों से 100 मीटर की दूरी कोई शराब की दुकान खोलने पर रोक लगा रखी है। इसके बाद भी एमव्हीएम के की दिवार से लगे मिंटो हाल के बार में बैठाकर शराब पिलाई जा रही है। इसका विरोध किया जाएगा।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close