लाइफ स्टाइलहेल्थ एंड ब्यूटी

स्‍किन और बालों के लिए काफी अच्‍छा है ग्रेप सीड ऑयल

ग्रेप सीड ऑयल त्वचा और बालों की देखभाल में सबसे लोकप्रिय और उपयोगी सामग्री में से एक है। इसमें सभी महत्वपूर्ण विटामिन-ई, सी, बीटा-कैरोटीन, एंटीऑक्‍सीडेंट और फैटी एसिड होते हैं, जो त्वचा और बालों को मजबूत, स्वस्थ और पोषित रखने का काम करते हैं।

यह तेल आपकी त्वचा पर अकेले सीरम के रूप में या अन्य उत्पादों के साथ मिलाकर भी इस्तेमाल किया जा सकता है। यह कई स्‍किन और हेयर केयर प्रोडक्‍ट्स में आवश्यक इंग्रीडियंट के तौर पर भी उपयोग किया जाता है। आइए जानते हैं इसकी खूबियों के बारे में…

ग्रेप सीड ऑयल मुंहसे और स्‍किन ब्रेकआउट से लड़ने में मदद कर सकता है। इसमें रोगाणुरोधी गुण होते हैं, जो मुंहासे पैदा करने वाले जीवाणुओं को मारता है और ब्रेकआउट को रोकने के लिए बंद पोर्स की अंदर से सफाई करता है।

ग्रेप सीड ऑयल त्वचा को मुलायम, चिकना और साफ बनाता है। यह त्वचा की लोच में सुधार करता है और इसकी नमी के स्तर को बनाए रखता है। तेल में विटामिन ई और सी त्वचा की गुणवत्ता को बढ़ाते हैं।

यह तेल प्रभावी रूप से त्वचा की चमक को बढ़ाता है और रंग को गोरा करता है, क्योंकि इसमें एक शक्तिशाली एंटीऑक्‍सीडेंट घटक होता है, जिसे प्रोएंथोसाइनिडिन कहा जाता है। यह नियमित रूप से उपयोग किए जाने पर त्वचा की टोन में सुधार करता है।

एक शोध से पता चला है कि ग्रेप सीड ऑयल में जो एंटीऑक्‍सीडेंट मौजूद होता है, वह हमारी त्वचा को सूरज की क्षति या हानिकारक यूवी किरणों से बचा सकता है। यूवीए किरणें मेलैनोसाइट्स को प्रभावित करती हैं। जिससे त्‍वचा का रंग हल्‍का दबना शुरू हो जाता है और टैनिंग की समस्‍या पैदा हो जाती है।

हमारे स्कैल्प का सीबम उत्पादन बालों की प्राकृतिक चमक और जीवंतता को बरकरार रखता है। लेकिन जैसे-जैसे हमारी उम्र बढ़ाने लगती है, यह हमारे बालों को रूखा और बेजान बनाने लगता है। विटामिन-ई पाया जाता है। विटामिन-ई बालों के विकास को बढ़ावा दे सकता है। यह हेल्‍दी बालों के विकास को भी बढ़ावा देता है।

 

आप इसे सीधे चेहरे या स्‍कैल्‍प पर उपयोग कर सकती हैं और धीरे से मालिश कर सकते हैं या इसे अपने मॉइस्चराइजिंग लोशन या क्रीम के साथ मिला सकती हैं। इस तेल का उपयोग आपके फेस मास्क के साथ भी किया जा सकता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close