बॉलीवुडमनोरंजन

अमिताभ बच्चन सुशांत के सुसाइड करने से शॉक्ड 

 
नई दिल्ली 

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के निधन से सभी लोग काफी दुखी हैं. एक्टर का यूं चला जाना किसी को भी नहीं भा रहा है. बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन भी सुशांत के सुसाइड से स्तब्ध रह गए हैं. उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए अपनी भावनाएं व्यक्त की हैं और इतने टैलेंटेड एक्टर के यूं चले जाने पर दुख भी व्यक्त किया है.

अमिताभ बच्चन ने अपने ब्लॉग में एक्टर को याद करते हुए लिखा- सुशांत सिंह राजपूत तुमने अपना जीवन आखिर क्यों खत्म कर दिया. तुम एक ब्रिलियेंट टैलेंट थे. बिना पूछे, बिना मदद लिए तुमने इतना बड़ा निर्णय ले लिया. क्यों.

सुशांत का काम काफी शानदार था. उसका दिमाग और भी तेज था. कई बार उसने ये साबित करके भी दिखाया था. वो जब स्क्रीन पर दिखता था और बोलता था तो उसकी ऑनस्क्रीन उपस्थिति में एक अनोखा संतुलन देखने को मिलता था. मैंने धोनी बायोपिक में उसका संपूर्ण काम देखा था. फिल्म में उसकी परफॉर्मेंस दमदार थी. एक दृष्टा के तौर पर फिल्म के तीन मोमेंट्स मुझे अभी भी याद आते हैं. वो इतना एफर्टलेसली उसने किया था कि एक एनालिस्ट के लिए उसे नोटिस कर पाना या उस तरफ ध्यान दे पाना मुश्किल होगा.
 

जब वो बोलता था और वार्तालाप करता था तो उसमें एक गहराई होती थी. उसके अभिनय में एक विशेषता थी कि वो काफी चतुराई से अभिनय करता था. एक बार मुलाकात के दौरान मैंने उनसे पूछा था कि फिल्म में वर्ल्डकप के दौरान तुमने धोनी का मैच विनिंग आइकॉनिक सिक्स इतने परफेक्शन के साथ कैसे मारा था. उसने कहा कि उसने धोनी का वो शॉट 100 से भी ज्यादा बार देखा था. ये उसका प्रोफेशनल एफर्ट था.

सुशांत की कहानी प्रेरणादायक
एक बैकग्राउंड डांसर से कैसे वो इस मुकाम तक पहुंचा था ये अपने आप में ही बहुत बड़ी बात है और प्रेरणादायक कहानी है. कब किसी चीज की अधिकता चरम को पार कर जाती है पता ही नहीं लगता. किस तरह का दिमाग आखिर इंसान को सुसाइड करने के लिए विविश कर देता है ये अपने आप में किसी रहस्य से कम नहीं है. इतनी गेनफुल लाइफ को ऐसे खत्म कर देने की इजाजत नहीं मिलनी चाहिए.

बता दें कि एक्टर सुशांत सिंह राजपूत ने 14 तारीख को मुंबई स्थित अपने निवास पर सुसाइड कर लिया था. उनके निधन की खबर से पूरा देश हिल गया और सिनेमा जगत के लोगों में शोक की लहर दौड़ पड़ी.

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close