इंदौरमध्यप्रदेश

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को एएनएम ने जमकर पीटा

उज्जैन
 उज्जैन के उन्हेल में एक तस्वीर सामने आई है जिससे देखकर आपके मन में भी ये सवाल उठेगा कि क्या ये आंगनबाड़ी है या फिर अखाड़ा..मामला उन्हेल के पिपलिया सांरग गांव का है जहां आंगनबाड़ी में ही स्वास्थ्य विभाग की महिला कर्मचारी और महिला बाल विकास विभाग की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के बीच जमकर विवाद हुआ। नौबत यहां तक पहुंच गई कि एएनएम ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को जमीन पर पटकर जमकर पीटा और कई जगह काटा भी। अब मामला थाने पहुंच चुका है और पुलिस जांच कर रही है। एएनएम और आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के बीच हुई मारपीट का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है।

यह है मामला
आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ने एएनएम से गर्भवती महिला की जानकारी संबंधित कुछ दस्तावेज मांगे थे। स्वास्थ्य विभाग की एएनएम ने आंगनवाड़ी कार्यकर्ता को जानकारी देने से मना कर दिया। कार्यकर्ता ने उक्त जानकारी वाले रजिस्टर से मोबाइल से फोटो खींच लिया। इसी बात से गुस्साई एएनएम ने आंगनवाड़ी कार्यकर्ता पर हमला बोल दिया। एएनएम ने मारपीट कर कार्यकर्ता को कई जगह काट लिया। वहां मौजूद लोगों ने पूरे घटनाक्रम का वीडियो बना लिया। मामले की घटना के बाद पीड़ित आंगनवाड़ी कार्यकर्ता उन्हेल महिला बाल विकास केंद्र पहुंची, जहां पर आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के साथ विभागीय शिकायत को लेकर उन्हेल पुलिस थाना पहुंची। यहां पर एएनएम के खिलाफ शिकायत दर्ज कराकर एफआईआर दर्ज करने को लेकर आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं ने धरना दिया, जिसके बाद उन्हेल पुलिस ने आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की शिकायत पर स्वास्थ्य विभाग की एएनएम के खिलाफ मारपीट का मामला दर्ज किया।

रजिस्टर से जानकारी लेने में हुआ विवाद
जांच अधिकारी एम एल रावत ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की योगिता नायडू और आंगनबाड़ी की उमा अांजना के बीच विवाद हुआ है। उमा ने योगिता से गर्भवती महिलाओं के संबंध में जानकारी मांगी थी, इस पर योगिता ने देने से मना कर दिया था। इस पर उमा ने उनके रजिस्टर से फोटो खींच लिया। इसी बात से गुस्साई योगिता ने उमा के साथ मारपीट की। मामले में मारपीट का प्रकरण दर्ज किया जा रहा है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close