बिहारराज्य

आकाशीय बिजली के कहर से बचने के लिए इन चीजों का रखें खास ध्यान

 
नई दिल्ली 

बिहार में शनिवार को आकाशीय बिजली गिरने से 20 लोगों की मौत हो गई थी. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मृतकों के परिजनों को 4 लाख रुपए सहायता राशि देने की घोषणा की है. इसके अलावा उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में भी आकाशीय बिजली गिरी थी और इस घटना में 6 लोगों की मौत हो गई थी.

बिजली गिरने की लगातार घटना के बाद नेशनल डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी (NDMA) ने एक ट्वीट किया है. इसमें एनडीएमए ने बताया है कि आकाशीय बिजली गिरने के दौरान आप कैसे अपना बचाव कर सकते हैं. एनडीएमए ने बताया, 'तूफान आने से पहले ही सभी बिजली के उपकरण बंद कर दें और बिजली के तार भी निकाल दें. इस दौरान तार वाले फोन का भी इस्तेमाल न करें.'
 
एनडीएमए ने ट्वीट में लिखा, 'खिड़की और दरवाजे से दूर रहें. घर के बरामदे से भी दूर रहें. धातु के पाइप को बिल्कुल न पकड़ें. नल के पानी का इस्तेमाल न करें. अब अगर आप घर से बार हैं तो पेड़ के नीचे शरण न लें. दूर रहें और भीड़ में खड़े न हों. अगर बाहर हैं तो तुरंत घर में आ जाएं और धातु की छत से दूर ही रहें. अगर आप इस दौरान पानी में हैं तो तुरंत पूल, तालाब से बाहर आ जाएं. घर से बाहर फंस गए हैं तो जमीन न बैठें और जमीन को हाथ भी न लगाएं. कार या बस में हैं तो उसी में रहें. फिर भी आप आकाशीय बिजली की चपेट में आ जाते हैं तो तुरंत अस्पताल पहुंचें.'
 
इससे पहले गुरुवार को बिहार के 8 जिलों में आकाशीय बिजली गिरने से 26 लोगों की मौत हुई थी. इसमें अगर जिलेवार देखें तो पटना में 6, पूर्वी चंपारण में 4, समस्तीपुर में 7, शिवहर में 2, कटिहार में 3, मधेपुरा में 2, पूर्णिया में 1 और पश्चिमी चंपारण में 1 मौत रिकॉर्ड हुई.

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close