भोपालमध्यप्रदेश

आप रामबाई को कह सकते हैं – आत्मनिर्भर, हर स्कीम का फायदा मिला गरीब परिवार को

भोपाल
प्रधानमंत्री आवास योजना से पक्का घर, स्वच्छ भारत अभियान से शौचालय, कपिलधारा योजना से कूप निर्माण, खेत-तालाब योजना से खेत में तालाब निर्माण, उज्जवला योजना के तहत रसोई गैस कनेक्शन और फूड कूपन से राशन, यह सभी सुविधाएँ ही श्रीमती रामबाई जैसे अनेक परिवारों के लिये आत्मनिर्भर भारत के निर्माण में मील का पत्थर साबित हो रहे हैं।

हाल ही में बैतूल जिले की जनपद पंचायत घोड़ाडोंगरी के ग्राम पाढरा निवासी रामबाई नर्रू अकोले को प्रधानमंत्री आवास योजना से मकान मिलने पर उनकी आत्मनिर्भरता की यह कहानी सामने आयी। श्रीमती रामबाई अपने परिवार के साथ कच्ची झोपड़ी में निवास करती थीं। यह कच्ची झोपड़ी बरसात में उनके परिवार के लिए बहुत कष्टदायी होती थी। इनके पास मात्र डेढ़ एकड़ भूमि थी, जिससे किसी तरह परिवार का भरण-पोषण होता था। ऐसी स्थिति में पक्का मकान बनाना सपना ही था।

उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री आवास योजनांतर्गत रामबाई के लिए आवास स्वीकृत किया गया, जिसमें उन्हें चार किश्तों में एक लाख 20 हजार रूपए एवं मकान निर्माण में लगने वाली 90 दिवस की मजदूरी मनरेगा के रूप में 15840 रूपए की राशि भी प्रदान की गई, जिससे उनके द्वारा पक्के आवास का निर्माण करवाया गया। प्रधानमंत्री आवास के साथ-साथ स्वच्छ भारत मिशन अंतर्गत 12 हजार रूपए की प्रोत्साहन राशि से शौचालय निर्माण भी कराया गया। रामबाई के खेत में मनरेगा से कपिलधारा कूप एवं खेत-तालाब योजना का लाभ भी मिल चुका है। इन्हें शासन की उज्जवला योजना के तहत गैस कनेक्शन एवं फूड कूपन भी प्राप्त है। स्वयं का मकान बन जाने एवं उक्त तमाम योजनाओं का लाभ मिलने से यह परिवार आत्मनिर्भर होकर अपना जीवन-यापन कर रहा है। आज बच्चे भी बेहतर पठन-पाठन कर रहे हैं। खेती के माध्यम से यह परिवार रोजगार से भी जुड़ा है। रामबाई के परिवार ने सरकार के प्रति आभार व्यक्त किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close