बॉलीवुडमनोरंजन

उनको कॉपी करते-करते मेरा नाम हुआ: जॉनी लिवर

बॉलिवुड के वेटरन ऐक्टर और कमीडियन जगदीप इस दुनिया में नहीं रहे। उनके जनाजे में उनके परिवार सहित कुछ करीबी लोग ही शामिल हो सके। फिल्म इंडस्ट्री से कमीडियन जॉनी लिवर उनको अंतिम विदाई देने कब्रिस्तान पहुंचे थे। वहां उन्होंने मीडिया से बातचीत के दौरान जगदीप को याद किया और बताया कि कैसे जगदीप की कॉपी करके वो खुद फेमस हो गए।

बहुत बड़े आर्टिस्ट थे जगदीप
जॉनी लिवर ने बताया, उनकी मिमिक्री करता था, उनको कॉपी करता था। लोग बोलते, एक लड़का है जगदीप साहब की कॉपी करता है। उनकी कॉपी करते-करते मेरा नाम हुआ। मुझे उनके साथ काम करने का मौका मिला। वह अच्छी बातें बताते थे। मैंने उनसे बहुत कुछ सीखा। वह बहुत बड़े आर्टिस्ट थे। फिल्म में जगदीप साहब होते तो लोग थिअटर से उनके डायलॉग्स बोलते हुए बाहर निकलते थे।

लंबे वक्त से बीमार थे जगदीप
बॉलिवुड ऐक्टर जगदीप का 8 जुलाई को मुंबई में निधन हो गया। उनकी तबीयत लंबे वक्त से खराब थी। उनको 9 जुलाई को सुपुर्द-ए-खाक किया गया। कोरोना से बचने के लिए ऐहतियात के तौर पर जनाजे में करीबी लोग ही शामिल हुए थे। उनके बेटे जावेद जाफरी, उनकी वाइफ और छोटे बेटे नावेद ने उनको अंतिम विदाई दी।

400 से ज्यादा फिल्मों में किया काम
जगदीप ने अपने करियर में 400 से ज्‍यादा फिल्‍मों में काम करके लोगों को एंटरटेन किया। 1975 में आई फिल्‍म 'शोले' में उनका किरदार सूरमा भोपाली काफी मशहूर हुआ। उन्‍होंने करियर की शुरुआत चाइल्‍ड आर्टिस्‍ट के तौर पर बीआर चोपड़ा की फिल्‍म 'अफसाना' से की थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close