भोपालमध्यप्रदेश

ऊर्जा मंत्री तोमर ने जनता दरबार लगा सुनीं आमजनों की समस्यायें

भोपाल

प्रदेश सरकार गरीब, असहाय, मजदूर किसान वर्ग के हितों का ध्यान रखने वाली सरकार है। मुख्यमंत्री का साफ निर्देश है कि कोई भी पात्र हितग्राही शासन की योजनाओं से वंचित नहीं रहना चाहिए। इसी कड़ी में आज रविवार को क्षेत्र के नागरिकों की सुविधा तथा उनकी समस्याओं का निदान एक ही जगह पर त्वरित किया जा सके, इसके लिए जनसमस्या निवारण शिविर का आयोजन किया गया। ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने यह बात ग्वालियर में रविवार को 38 नम्बर बंगले पर आमजनों की समस्याओं के निराकरण के लिए आयोजित जनसमस्या निवारण शिविर में कही।

जनसमस्या निवारण शिविर में विद्युत, जल, सफाई, खाद्य, पुलिस आदि के हितग्राहियों की समस्याओं का निराकरण किया गया। समस्या निवारण शिविर में सबसे ज्यादा विद्युत की समस्यायें आई। मंत्री तोमर ने मौके पर ही समस्याओं का निराकरण कर हितग्राहियों को संतुष्ट कर घर भेजा और अधिकारियों को भी निर्देशित किया कि समस्या छोटी हो या बड़ी पहले हितग्राही की समस्या सुनो फिर उसका निराकरण करो।

जनसमस्या निवारण शिविर में माँ वैष्णोंपुरम के रहवासियों ने 33 केवी लाइन को हटवाने के लिए आवेदन दिया। ऊर्जा मंत्री तोमर ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि बिलों में आंकलित खपत न जोडी जाये साथ ही समय पर मीटर रीडिंग ली जाये जिससे उपभोक्ता को सही यूनिट का बिल मिल सके।

एक घंटे में मिली मदद से खुश होकर घर लोटी श्रीमती मीरा

ऊर्जा मंत्री तोमर ने शिविर में गेंडे वाली सड़क से आई श्रीमती मीरा छिलवार पत्नी स्व. पप्पू छिलवार को विधवा पेंशन की स्वीकृति एक घंटे में दिलवाई। इस पर श्रीमती मीरा छिलवार ने ऊर्जा मंत्री का धन्यवाद देते हुए कहा कि पिछले दस माह से भटक रही थी, फिर भी कोई सुनवाई नहीं हो रही थी। शिविर में आई तो मेरा काम एक घंटे में हो गया। साथ ही मेरे पति की मृत्यु होने पर 2 लाख रूपये संबल योजना के तहत दिलवाये और मेरी बेटी की शादी का भी भरोसा दिलाया है।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close