देश

एक करोड़ पार दुनियाभर में कोरोना संक्रमितों की संख्या, 5 लाख से ज्यादा मौतें

नई दिल्ली 
दुनियाभर में कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ता जा रहा है. दुनियाभर में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर एक करोड़ को पार कर गई है जबकि इस जानलेवा वायरस की चपेट में आने से पांच लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. चीन के वुहान शहर से शुरू हुआ कोरोना वायरस का संक्रमण दुनियाभर के देशों में तेजी से फैल रहा है. www.worldometers.info के आंकड़ों के मुताबिक अभी दुनियाभर में कोरोना संक्रमितों की संख्या एक करोड़ को पार कर चुकी है. आंकड़े बताते हैं कि दुनियाभर के देशों में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर अब 10,081,545 हो चुकी है. वहीं इस खतरनाक वायरस की चपेट में आने से अब तक 501,298 लोग दम तोड़ चुके हैं. एक अच्छी बात यह है कि पूरी दुनिया में अभी तक कोरोना वायरस से संक्रमित 5,458,369 लोग ठीक हुए हैं.

अमेरिका की कोरोना स्थिति बदतर
फिलहाल अमेरिका की कोरोना संक्रमण से सबसे ज्यादा हालत खराब है. जब चीन में कोरोना वायरस महामारी का प्रकोप चरम पर था तब अमेरिका जैसे देश चीन पर तथ्यों को छिपाने का आरोप लगा रहे थे. लेकिन अब चीन में स्थिति लगभग सामान्य है और अमेरिका बेहाल है. वहां करीब 25 लाख नागरिक कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं, जबकि मौत का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है.

फिर से प्रतिबंध लागू
बता दें कि अमेरिका में कोरोना वायरस संक्रमण के एक दिन में सर्वाधिक 40,000 नए मामले सामने आए हैं. ऐसे में देश के दो राज्यों ने संक्रमण को काबू करने के लिए फिर से प्रतिबंध लागू कर दिए हैं. टेक्सास के गवर्नर ग्रेग एबॉट ने सभी बार बंद किए जाने का शुक्रवार को आदेश दिया और फ्लोरिडा ने बार में शराब की बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया. समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार अमेरिका के ये दोनों राज्य देश के उन राज्यों की सूची में शामिल हो गए हैं, जो संक्रमण के फिर से जोर पकड़ने के कारण या तो पुन: प्रतिबंध लागू कर रहे हैं या अपनी अर्थव्यवस्थाएं और अधिक खोलने का फैसला फिलहाल टाल रहे हैं. स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि परेशान करने वाली बात यह है कि बड़ी संख्या में युवा संक्रमित हो रहे हैं जो मॉस्क पहने बिना या भौतिक दूरी के नियम का पालन किए बिना बाहर निकल रहे हैं.
 

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close