देश

कई राज्‍यों में मॉनसून की दस्‍तक, देश में सामान्‍य से 31 प्रतिशत ज्‍यादा बारिश

मुंबई

 मौसम विभाग (IMD) के मुताबिक, भारत में पिछले 14 दिन के भीतर 75.8 मिलीमीटर बारिश हुई। हर साल इस दौरान औसतन 57.8 मिलीमीटर बारिश दर्ज की जाती है। यानी मॉनसून की एंट्री तो धमाकेदार रही है।

गर्मी से परेशान रहे भारत को मॉनसून (Monsoon 2020) ने राहत पहुंचानी शुरू कर दी है। एक जून को केरल से टकराए दक्षिण-पश्चिम मॉनसून ने महाराष्‍ट्र, कर्नाटक को कवर कर लिया है। छत्‍तीसगढ़, बिहार और झारखंड में भी मॉनसून के चलते बारिश होनी शुरू हो गई है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के मुताबिक, पिछले 14 दिन में पूरे देश में सामान्‍य से 31 प्रतिशत ज्‍यादा बारिश देखने को मिली है। उत्‍तर भारत के जिन राज्‍यों से मॉनसून अभी दूर है, वहां उमस बनी हुई है। IMD का अनुमान है कि इस साल मॉनसून सामान्य रहेगा, जिससे किसानों को खासी राहत मिलेगी।

अभी राहत नहीं महसूस कर पाएंगे दिल्‍लीवाले
देश की राजधानी और आस-पास के इलाकों में रहने वालों को फिलहाल राहत नहीं मिलेगी। मौसम विभाग का कहना है कि अगले चार दिन तक यूं ही उमस बनी रहेगी। इस दौराना पारा भी 40 डिग्री सेल्सियस से ज्‍यादा बना रहेगा। 19 जून को तेज हवाओं के साथ बूंदाबादी हो सकती है। सोमवार को दिल्‍ली में मौसम और गर्म हो सकता है क्‍योंकि पारा 41 डिग्री के पार जाने का अनुमान है।

यूपी में कई जगहों पर बरसेंगे बादल
राजधानी लखनऊ में कई जगहों पर बादल छाए रहेंगे। इस दौरान हल्की बारिश या फिर गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में धूल भरी आंधी के साथ छिटपुट बारिश की संभावना है।

पटना में आंधी-तूफान संग बारिश
मौसम विभाग के मुताबिक, बिहार की राजधानी पटना और आसपास के इलाकों में आंधी-तूफान के साथ बारिश की संभावना है। प्रदेश में सोमवार से कहीं तेज तो कहीं औसत बारिश होगी। मॉनसून के चलते बिहार में दिन का तापमान सामान्य से नीचे आ गया है।

पूरे कर्नाटक में बारिश कराने को तैयार मॉनसून
मौसम विभाग की मानें तो शुक्रवार तक दक्षिण पश्चिम मॉनसून पूरे कर्नाटक में पहुंच गया है। इसकी वजह से कई इलाकों में अच्‍छी-खासी बारिश हुई है। उडुपी जिले में मौसम विभाग के एक केंद्र ने 20 सेंटीमीटर बारिश दर्ज की। रविवार को तटीय कर्नाटक के पांच केंद्रों ने भारी बारिश दर्ज की। एक अधिकारी ने कहा, "अगले पांच दिनों में व्यापक बारिश की उम्मीद है। सोमवार को भारी से बहुत भारी बारिश हो सकती है।" मौसम विभाग मंगलवार को बारिश में कमी, और अगले तीन दिनों तक भारी बारिश की उम्मीद कर रहा है। बेंगलुरू में अधिक बारिश की संभावना नहीं है, क्योंकि यह मॉनसून के पूर्वी किनारे पर पड़ता है।

छत्तीसगढ़ के कई जिलों में मॉनसून कराएगा बारिश
अगले दो दिन के भीतर छत्तीसगढ़ के कई जिलों में मॉनसून की वजह से बारिश होगी। रायपुर मौसम विभाग के मौसम वैज्ञानिक एचपी चंद्रा के मुताबिक, मॉनसून इस बार अंबिकापुर (उत्तरी छत्तीसगढ़) एक सप्ताह पहले पहुंच गया है। रायपुर और कई अन्य इलाकों में पिछले दो दिनों में अच्छी बारिश हुई है। राज्‍य के कुछ जिलों में बाढ़ का खतरा देखते हुए सभी जिलाधिकारियों को आवश्यक इंतजाम करने का निर्देश दिया गया है।

पंजाब-हरियाणा में मौसम नॉर्मल
संडे को पंजाब और हरियाणा के अधिकतर हिस्सों में तापमान सामान्य के आसपास रहा। चंडीगढ़ में अधिकतम तापमान 38.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। हरियाणा के अंबाला में अधिकतम तापमान 40 और हिसार का पारा41 डिग्री रहा। पंजाब के अमृतसर में अधिकतम तापमान 40.4 डिग्री, लुधियाना में 40.9 डिग्री और पटियाला में 40.3 डिग्री दर्ज किया गया। सोमवार को भी यहां पर मौसम सामान्‍य रहने के अनुमान हैं।

अगले 24 घंटों में यहां होगी बारिश
स्‍काईमेट के अनुसार, अगले 24 घंटों के दौरान केरल, तटीय कर्नाटक, कोंकण गोवा, मध्य महाराष्ट्र, गुजरात, ओडिशा, बिहार, झारखंड और पश्चिम बंगाल में कई जगहों पर मध्यम से भारी बारिश हो सकती है। मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, आंतरिक महाराष्ट्र, पूर्वोत्तर भारत, दक्षिणी आंतरिक कर्नाटक में हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक-दो स्थानों पर तेज़ बौछारें गिर सकती हैं।

राजस्‍थान में गर्मी भी, राहत भी
राजस्थान के पूर्वी और पश्चिमी इलाकों में कई जगहों पर रविवार सुबह भारी से मध्यम बारिश हुई है। राज्‍य के कुछ इलाके भयंकर गर्मी की चपेट में हैं। कोटपुतली में 58 मिलीमीटर, उदयपुर के सरारा में 37 मिलीमीटर, अलवर में 36.8 मिलीमीटर, उदयपुर में सलूम्बर में 47 मिलीमीटर, डूंगरपुर के निथुआ में 38 मिलीमीटर, अलवर के कोटकासिम में 45 मिलीमीटर, बीकानेर के कोलायत में 50 मिलीमीटर, डूंगरपुर के गणेपुरा और साबला में 35-35 मिलीमीटर तक बारिश दर्ज की गई। श्रीगंगानगर 44.9 डिग्री सेल्सियस के साथ राज्य का सबसे गर्म स्थान रहा। जैसलमेर में अधिकतम तापमान 43.8 डिग्री सेल्सियस, जयपुर में 40.1 डिग्री सेल्सियस, बाडमेर में 42.7 डिग्री सेल्सियस, अजमेर में 39.5 डिग्री सेल्सियस, चूरू में 41.3 डिग्री सेल्सियस, बीकानेर में 43.7 डिग्री सेल्सियस, जोधपुर में 41.7 डिग्री सेल्सियस, कोटा में 39.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close