राजनीतिक

कांग्रेस नेता ने मनी लॉन्ड्रिंग का लगाया आरोप- कहा- कलानगर में इतना सस्ता प्लॉट असंभव

 
मुंबई 

 महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के पैतृक निवास मातोश्री के ठीक सामने मुंबई के कलानगर में मातोश्री-2 का निर्माण हो रहा है. यह जमीन उद्धव ठाकरे ने 5.80 करोड़ रुपये में राजभूषण दीक्षित से खरीदी थी. अब उद्धव ठाकरे का मातोश्री-2 विवादों में आता दिख रहा है. उद्धव के नेतृत्व वाली महा विकास अघाड़ी सरकार में गठबंधन सहयोगी कांग्रेस के नेता संजय निरुपम ने इस पर सवाल उठाते हुए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) से जांच कराने की मांग की है.

निरुपम ने कहा है कि ठाकरे ने जो जमीन 5.80 करोड़ में ली है, उसका बाजार भाव 7 गुना अधिक है. उन्होंने इसकी ईडी से जांच कराए जाने की मांग की और कहा कि मुंबई के प्रॉपर्टी बाजार को जानने वाले लोगों को पता है कि कलानगर में प्लॉट इतना सस्ता नहीं मिल सकता. यह असंभव है. निरुपम ने चेक से किए गए भुगतान के अलावा नकदी के जरिए बड़ी रकम का भुगतान किए जाने का आरोप भी लगाया.
 
उन्होंने ईडी जांच की मांग करते हुए कहा कि उद्धव ठाकरे ने जिस राजभूषण से जमीन खरीदी थी, वह स्टर्लिंग बायोटेक कंपनी का निदेशक था. ईडी स्टर्लिंग बायोटेक केस में उससे पूछताछ भी कर चुकी है. कांग्रेस नेता ने ईडी से मांग करते हुए कहा कि दिल्ली से जुड़े मामले में पूछताछ करने के बाद मुंबई के इस मामले पर भी ध्यान दिया जाए. उन्होंने कहा कि इस सौदे में कोई नकद लेन-देन हुआ कि नहीं, ईडी के साथ ही केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) को भी इसकी जांच करनी चाहिए.

गौरतलब है कि स्टर्लिंग बायोटेक केस में ही कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल से भी ईडी लगातार पूछताछ कर रही है. बता दें कि कभी राहुल गांधी के करीबी नेताओं में गिने जाने वाले संजय निरुपम पिछले कुछ दिनों से कांग्रेस में साइडलाइन चल रहे हैं. महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के दौरान भी निरूपम पार्टी के प्रचार अभियान से दूर नजर आए थे. वे मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और उनकी सरकार को लेकर लगातार हमलावर रहे हैं.
 

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close