ग्वालियरमध्यप्रदेश

कानपुर एनकाउंटर: सीमावर्ती इलाकों में पुलिस अलर्ट, कुख्यात गैंगस्टर विकास दुबे के मध्य प्रदेश में घुसने की आशंका

 ग्वालियर 
उत्तर प्रदेश के कानपुर में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या में शामिल कुख्यात गैंगस्टर विकास दुबे के मध्य प्रदेश में घुसने की संभावना के चलते पुलिस यहां अलर्ट पर है। इस सिलसिले में प्रदेश के ग्वालियर और चंबल इलाके के पुलिस अधिकारी उत्तर प्रदेश पुलिस के अधिकारियों के साथ नियमित संपर्क में हैं।

ग्वालियर रेंज के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एडीजी) राजाबाबू सिंह ने सोमवार (6 जुलाई) को बताया कि उत्तर प्रदेश में पुलिस कर्मियों की हत्या के बाद गैंगस्टर विकास दुबे को लेकर मध्य प्रदेश पुलिस सीमावर्ती जिलों में विशेष नजर रख रही है। उन्होंने कहा, ''हम उत्तर प्रदेश एसटीएफ और पुलिस के साथ लगातार संपर्क में हैं। मध्य प्रदेश पुलिस उन्हें सहयोग देने के लिए अलर्ट पर है।"
 
चंबल क्षेत्र के पुलिस उपमहानिरीक्षक (डीआईजी) राजेश हिंगणकर ने कहा, ''हम लगातार उत्तर प्रदेश पुलिस के संपर्क में हैं। भिंड और मुरैना जिलों के पुलिस अधीक्षकों को उत्तर प्रदेश के साथ लगने वाले इलाकों में विशेष निगरानी रखने के लिये कहा गया है।" उन्होंने कहा कि हालांकि सीमावर्ती इलाकों में पुलिस हमेशा ही आपराधिक गतविधियों और अपराधियों की आवाजाही के मामले में चौकस रहती है।

विकास दुबे पर 2.5 लाख का इनाम
कानपुर एनकाउंटर में सीओ समेत आठ पुलिसकर्मियों का मुख्य हत्यारोपी विकास दुबे के ऊपर इनाम की राशि ढाई लाख की गई। डीजीपी एचसी अवस्थी ने इसकी घोषणा की है। आईजी रेंज कानपुर ने इनाम की रकम ढाई लाख किए जाने की संस्तुति करते हुए फ़ाइल डीजीपी ऑफिस भेजी थी। इससे पहले 50 हजार और उसके बाद 1 लाख इनाम की राशि की गई।
 
 गोलीबारी कर दी थी, जिसमें आठ पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे। एक सीओ और दो एसओ समेत आठ पुलिसकमिर्यों पर हमला करके जान लेने का आरोपी कुख्यात बदमाश विकास दुबे पर 60 से ज्यादा मुकदमे दर्ज हैं। हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे पर अपने चचेरे भाई पर जानलेवा हमला करने का भी आरोप है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close