छत्तीसगढ़

किसानों को खाद-बीज की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने के दिए निर्देश-मंत्री लखमा

रायपुर
उद्योग तथा धमतरी जिले के प्रभारी मंत्री कवासी लखमा ने आज धमतरी कलेक्टोरेट सभाकक्ष में जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक में विभागीय कार्ययोजनाओं की समीक्षा की। समीक्षा के दौरान प्रभारी मंत्री ने अधिकारियों को पौधरोपण के लिए दिए गए लक्ष्य को समय पर पूरा करने और पौधों की देखभाल करने, खरीफ सीजन के लिए किसानों को खाद-बीज की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने, सुराजी गांव योजना में बहुगतिविधियों को चयनित करने के संबंध में दिशा-निर्देश दिए। मनरेगा सहित अन्य शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन की जानकारी ली एवं आवश्यक निर्देश दिए।

समीक्षा के दौरान प्रभारी मंत्री ने समाज कल्याण विभाग के अधिकारियों से वृद्धा तथा निराश्रित पेंशन से लाभान्वित होने वाले हितग्राहियों की जानकारी ली। मंत्री ने जिले में संचालित इंग्लिश मीडियम स्कूल के रूप में स्वीकृत मेहतरू राम धीवर शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बठेना में अधोसंरचना, छात्र तथा शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया के संबंध में जानकारी ली और उन्होंने यहां पर जल्द से जल्द अधोसंरचना के कार्य को पूरा करने तथा भर्ती प्रक्रिया को नियमानुसार पूर्ण करने पर जोर दिया। जिले में कोविड 19 के मद्देनजर किसी भी हितग्राही को लाभ से वंचित ना होना पड़े, यह सुनिश्चित करने के निर्देश प्रभारी मंत्री ने बैठक में दिए। मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के तहत आंगनबाड़ियों में भी पाक्षिक तौर पर दिए जा रहे सूखा राशन और रेडी-टू-ईट फुड पैकेट की जानकारी लेते हुए प्रभारी मंत्री ने कुपोषण मिटाने के लिए हरसंभव प्रयास करने पर जोर दिया। इस मौके पर उन्होंने जिले में बारिश के मौसम को देखते हुए वृक्षारोपण के लिए की गई तैयारियों की जानकारी ली साथ ही इन पौधों की सही तरीके से देखभाल करने पर जोर दिया। श्री लखमा ने बारिश के मौसम को देखते हुए पेयजल की स्वच्छता, निचली बस्तियों में जल निकासी तथा मौसमी बीमारियों के प्रति भी सतर्क रहने के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिए। इसके साथ ही शासन की महत्वपूर्ण योजना मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लिनिक, मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना के क्रियान्वयन की जानकारी ली। उन्होंने बांधों में जल भराव, राजस्व प्रकरणों के निपटारे की प्रगति की समीक्षा कर आवश्यक निर्देश दिए। इस मौके पर प्रभारी मंत्री ने जिले में सुराजी गांव योजना के तहत नरवा, गरूवा, घुरूवा और बाड़ी के कार्यों की भी समीक्षा की तथा बनाए जाने वाले आदर्श गौठानों को बहुगतिविधियों के लिए चयनित करने पर बल दिया। इसके साथ ही गौठानों में तैयार वर्मी खाद और गोबर खाद का सदुपयोग करने पर भी जोर दिया। अधिकारियों ने बताया कि सामुदायिक पौधरोपण के लिए चयनित स्थानों में गौठानों से लगभग तीन लाख रूपए के वर्मी खाद का उठाव किया गया है। इस पर मंत्री लखमा ने संतोष जताया। मनरेगा की समीक्षा के दौरान बताया गया कि जिले में 73 लाख 50 हजार लक्ष्य के विरूद्ध 48 लाख 23 हजार से अधिक मानक दिवस सृजित कर लिए गए हैं। वर्तमान में जिले में 570 कार्य मनरेगा के तहत चल रहे है। इस अवसर परं प्रभारी मंत्री ने स्वीकृत 15 पंचायत भवनों की जानकारी लेते हुए इन्हें जल्द से जल्द पूरा करने के निर्देश दिए।

बैठक में सिहावा विधायक डॉ. लक्ष्मी ध्रुव, नगरपालिक निगम धमतरी के महापौर विजय देवांगन, जिला पंचायत उपाध्यक्ष नीशु चन्द्राकर, पूर्व विधायक गुरूमुख सिंह होरा, कलेक्टर जे.पी. मौर्य, पुलिस अधीक्षक बी.पी.राजभानू, जिला पंचायत सीईओ नम्रता गांधी सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close