देश

कोयंबटूर में हाथी की मौत, मुंह में मिले गहरे जख्म

कोयंबटूर
तमिलनाडु के कोयंबटूर में एक नर हाथी का शव खेत में बरामद किया गया है। बताया जा रहा है कि कुछ दिन पहले हाथी के मुंह में घाव लगे थे, जिसके चलते सोमवार को उसकी मौत हो गई। अधिकारियों ने आशंका जताई है कि हाथी की मौत केरल के पलक्कड़ में गर्भवती हथिनी की मौत की तर्ज पर हुई है। यानी कि खेतों में पड़े पटाखों वाले फल खाने से हाथी की जान गई है।

गौरतलब है कि फसल बरबाद करने वाले जंगली सुअरों के लिए स्थानीय किसान खेतों में पटाखों से भरे फल रखते हैं। ऐसा ही एक फल खाने से बीते दिनों केरल में एक हथिनी की जान चली गई थी, जिसके बाद देश भर में लोगों ने आरोपी लोगों के खिलाफ आक्रोश जाहिर किया था। ताजा मामला कोयंबटूर के अनईकट्टी गांव का है। बीते 20 जून को जंगल विभाग के अधिकारियों को सूचना मिली कि एक कमजोर जंगली हाथी जम्बूकांडी के खेत में खड़ा है और कुछ भी खा-पी नहीं पा रहा है।

दवा मिलने के बाद भी हाथी की मौत
फॉरेस्ट रैंजर्स की एक टीम एस सुरेश के नेतृत्व में मौके पर पहुंची। पशु चिकित्सकों ने हाथी की जांच की और उसे फलों के भीतर दवा डालकर खिलाने की कोशिश की। इसके अलावा कुछ तरल दवाइयां भी हाथी को दी गई। रविवार को हाथी चलने-फिरने लगी और जंगल में जा पहुंची। वहां पहुंचने के बाद सोमवार को वह जमीन पर गिर पड़ी और दम तोड़ दिया। हाथी की मौत के बाद जब डॉक्टरों ने उसकी जांच की तो देखा कि उसके मुंह में गंभीर चोट लगी थी। माना जा रहा है कि विस्फोटकों से से फल खाने के बाद हाथी को यह घाव लगा था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close