राजनीतिक

कोरोना: अमित शाह की सर्वदलीय बैठक क्या-क्या हुआ

नई दिल्ली
राजधानी दिल्ली में कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों से निपटने के लिए खुद गृह मंत्री अमित शाह ऐक्टिव हो गए हैं। इस बाबत आज उन्होंने सर्वदलीय बैठक बुलाई और दिल्ली के सभी राजनीतिक दलों की राय जानी। इस बैठक में शामिल सभी दलों ने अपनी राय दी। बैठक में शाह ने साफ कहा कि यह वक्त महामारी से निपटने का है और सभी दल अपने राजनीतिक अजेंडा को अलग कर दें। उन्होंने कहा कि 20 जून से हर रोज दिल्ली में 18 हजार टेस्ट होंगे। बैठक में आम आदमी पार्टी (आप) बीजेपी, कांग्रेस और बीएसपी के प्रतिनिधि शामिल हुए।

ऐक्शन में शाह, 36 घंटे में तीसरी बैठक
पिछले 36 घंटे में शाह की यह तीसरी बैठक थी। इससे पहले शाह ने दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल, एलजी अनिल बैजल समेत MCD के सभी मेयरों के साथ बैठक कर चुके हैं। राजधानी दिल्ली में कोरोना के आंकड़े बढ़कर 41 हजार के पार पहुंच चुके हैं।

'20 जून से हर रोज 18 हजार टेस्ट'
बैठक में शामिल दलों ने राय दी। दिल्ली बीजेपी चीफ आदेश कुमार गुप्ता ने कहा कि बैठक में शाह ने कहा कि 20 जून तक दिल्ली सरकार हर रोज 18 हजार कोरोना के टेस्ट करेगी।

कांग्रेस का आप पर आरोप
कांग्रेस ने बैठक के बाद आप पर कोरोना के आंकड़े छिपाने का आरोप लगाए। राज्य के प्रदेश अध्यक्ष अनिल चौधरी ने बैठक के बाद कहा, ' कोरोना फैलने के लिए सीधे तौर पर दिल्ली सरकार और केंद्र सरकार जिम्मेदार है। हमनें 11 पॉइंट सजेशन के तौर पर दिए हैं। एलजी साहब को सुझाव दिए थे। हमने कहा कि कॉलेज और हॉस्टल की सुविधा लेनी चाहिए। दिल्ली के सीएम गुमरारह कर रहे हैं। प्राइवेट अस्पतालों को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। हमने एक पत्र सबूत के तौर पर सौंपा है, गृह मंत्री को, उन्होंने इसे जांच के लिए भेजा है।'

कांग्रेस पर आप का पलटवार
बैठक में शामिल आप के प्रतिनिधि संजय सिंह ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने कोरोना को द्वितीय विश्वयुद्ध से भी बड़ा बताया था। आने वाले कुछ दिनों में राज्य सरकार के अस्पतालों में 1,900 बेड, केंद्र के अस्पतालों में 2,000 बेड, निजी अस्पतालों में 1,178 बेड बढ़ने वाले हैं। इसके अलावा रेलवे कोच के जरिए कुल 16,000 बेड बढ़ेंगे। कांग्रेस के आरोपों पर आप ने कहा कि भला आंकड़े कौन छिपा सकता है। उन्होंने कहा, 'आप ICMR से पता कर लें। दिल्ली देश में सबसे ज्यादा रोजना 15 हजार टेस्ट कर रही है। दूसरे नंबर पर तमिलनाडु हैं जहां हर रोज 7.5 हजार टेस्ट हो रहे हैं। इन टेस्टों की लैब्स में जांच होती है। आलोचना करना है तो कुछ भी करिए। कोई रोक तो है नहीं।' उन्होंने कहा कि बैठक में गृह मंत्री शाह ने कहा कि इस वक्त सभी को मिलकर चलने की जरूरत है।

दिल्‍ली में थम नहीं रहा कोरोना का कहर
देश की राजधानी में पिछले 24 घंटों में 2,200 से ज्‍यादा नए मामले सामने आए। इस दौरान कोरोना के 7,353 टेस्ट हुए जिनमें से 2,224 सैंपल कोरोना पॉजिटिव पाए गए। दिल्‍ली में कोरोना के कुल मामलेां की संख्‍या 41,182 हो चुकी है। बीते 24 घंटों में दिल्ली में कोरोना वायरस से 56 लोगों की मौत हुई है। इसके साथ ही मरने वालों की संख्‍या भी बढ़कर 1,327 पहुंच गई। राजधानी में फिलहाल कोरोना के 24,032 ऐक्टिव पेशंट हैं जबकि 15,823 को इलाज के बाद छुट्टी दी जा चुकी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close