देश

कोसी, सीमांचल और पूर्व बिहार में आकाशीय बिजली से आठ लोगों की मौत

भागलपुर
कोसी और पूर्वी बिहार के जिले में मंगलवार की दोपहर बारिश के दौरान वज्रपात की चपेट में आने से आठ लोगों की मौत हो गयी, जबकि आठ लोग जख्मी हो गये। मरनेवालों में सहरसा और मधेपुरा के दो-दो जबकि  भागलपुर, जमुई, मुंगेर और बांका के एक व्यक्ति शामिल हैं। सहरसा के कहरा प्रखंड स्थित हरिपुर गांव में वज्रपात की चपेट में आने से किसान वेदप्रकाश सिंह की मौत हो गई। वहीं सोनवर्षा प्रखंड के झिटकिया गांव में वज्रपात की चपेट में आने से अशोक मुखिया की मौत हो गई है। वहीं चार अन्य जख्मी हो गए। बनमा ईटहरी के कुसमी गांव में एक महिला तथा बलवाहाट में एक लड़की भी वज्रपात की चपेट में आने से जख्मी हुई है। मधेपुरा के रतवारा वार्ड दो निवासी रबिन चौधरी उर्फ रविंद्र चौधरी (52) अपनी पत्नी व अन्य लोगों के साथ खेत में धान रोप रहे थे। करीब दो बजे ठनका गिरने से रविंद्र की मौत हो गयी जबकि उसकी पत्नी व एक अन्य महिला जख्मी हो गयी। वहीं चौसा की लौआलगान पूर्वी पंचायत के वार्ड नौ खोपड़िया टोला प्रकाश सिंह (45) ठनका की चपेट में आने से मौत हो गयी जबकि श्रवण कुमार जख्मी हो गया। 

भागलपुर के सुल्तानगंज के बाथ थाना क्षेत्र के देवधा गांव में बुचो देवी (31) की मौत हो गई। जमुई के लक्ष्मीपुर में वज्रपात से एक महिला की मौत हो गई। मृत महिला सुनीता देवी मंगरार की रहने वाली थी।  मुंगेर के असरगंज स्थित जोरारी गांव के टांड़ी बहियार में मंगलवार की दोपहर वज्रपात की चपेट में आने से एक मजदूर की मौत हो गई। मृतक मदारपुर गांव निवासी मो. नसरुद्दीन का पुत्र कासिम(32 वर्ष) था। बांका के रजौन स्थित फुदकीपुर गांव में मंगलवार की दोपहर बाद तेज बारिश के बीच हुए वज्रपात में एक युवक की मौके पर ही मौत हो गई। मृतक विनोद कुमार फुदकीपुर का ही रहने वाला था। खगड़िया के बेलदौर थाना क्षेत्र के खैरा बासा बाहियार में वज्रपात से एक युवक रमेश शर्मा झुलस गया। उसे बेलदौर पीएचसी में भर्ती कराया गया है।  

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close