देश

गुजरात हाई कोर्ट ने अहमदाबाद में भगवान जगन्नाथ रथ यात्रा पर लगाई रोक

नई दिल्ली
कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए गुजरात हाई कोर्ट ने इस बार अहमदाबाद में भगवान जगन्नाथ रथ यात्रा निकालने पर रोक लगा दी है। बता दें कि अहमदाबाद में भगवान जगन्नाथ रथ यात्रा 23 जून को प्रस्तावित थी। अब हाई कोर्ट ने यात्रा से तीन दिन पहले की रोक लगा दी है। बता दें कि गुजरात में अहमदाबाद में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में शुरुआत में तेजी से वृद्धि देखने को मिली थी।  हालांकि, अभी अहमदाबाद समेत गुजरात के कई जिले कोरोना वायरस की चपेट में हैं। इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने 23 जून को होने जा रही ऐतिहासिक वार्षिक जगन्नाथ पुरी रथ यात्रा पर रोक लगा दी है। चीफ जस्टिस एसए बोबडे, जस्टिस दिनेश माहेश्वरी और जस्टिस एएस बोपन्ना की बेंच ने गुरुवार को इस मामले की सुनवाई करते हुए कहा था कि जनहित और लोगों की सुरक्षा को देखते हुए इस साल रथ यात्रा की इजाजत नहीं दी जा सकती है।  

चीफ जस्टिस ने कहा था, ''यदि हमने इस साल हमने रथ यात्रा की इजाजत दी तो भगवान जगन्नाथ हमें माफ नहीं करेंगे। महामारी के दौरान इतना बड़ा समागम नहीं हो सकता है।'' बेंच ने ओडिशा सरकार से यह भी कहा कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए राज्य में कहीं भी यात्रा, तीर्थ या इससे जुड़े गतिविधियों की इजाजत ना दें।  कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए ओडिशा विकास परिषद नाम के एक एनजीओ ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी और इस साल रथ यात्रा पर रोक लगाने की मांग की थी। पुरी में हर साल रथ यात्रा बड़े धूमधाम से आयोजित होता है। इससे जुड़े कार्यक्रम 10-12 दिनों तक चलते हैं और पूरी दुनिया से आए लाखों श्रद्धालु इसमें शामिल होते हैं। अहमदाबाद में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले 18 हजार को पार कर गए हैं। शनिवार को मिली जानकारी के मुताबिक अहमदाबाद में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 306 नए केस सामने आए हैं और 16 लोगों की मौत हुई है। इसी के सात जिले में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले 18564 पहुंच गए हैं और अब तक 1312 लोगों की मौत हुई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close