गैजेट्सलाइफ स्टाइल

गूगल ने हटाए 30 ऐप, अपने फोन से तुरंत करें डिलीट

नई दिल्ली
गूगल ने ऐंड्रॉयड यूजर्स को ऑफर किए जा रहे 30 पॉप्युलर ऐप्स प्ले स्टोर से हटा दिए हैं और ऐसे उनमें खतरनाक मैलवेयर मिलने के चलते किया गया है। अब नए यूजर्स इस ऐप्स को प्ले स्टोर से डाउनलोड नहीं कर पाएंगे लेकिन इन्हें पहले ही करीब 2 करोड़ बार डाउनलोड किया जा चुका है। ऐसे में यूजर्स को ये ऐप्स अपने स्मार्टफोन से फौरन डिलीट करने की सलाह दी जाती है। सामने आई ऐप्स की लिस्ट में सबसे ज्यादा यूजर्स ने ऐसे थर्ड-पार्टी सेल्फी ऐप्स को डाउनलोड किया है, जिनमें मैलवेयर हैं।

WhiteOps के सिक्यॉरिटी रिसर्चर्स ने इन ऐप्स का पता लगाया और कहा कि ऐसे ऐप्स फोन में ढेर सारे ऐड दिखाने लगते हैं और बिना लिंक पर क्लिक किए यूजर्स को उनपर रीडायरेक्ट करने लगते हैं। इतना ही नहीं, कई मामलों में एक बार डाउनलोड करने के बाद यूजर्स के लिए ऐसे ऐप्स को डिलीट करना लगभग नामुमकिन हो जाता है। हम यहां आपके लिए उन ऐप्स की लिस्ट लेकर आए हैं।

ऐप्स इंस्टॉल
Yoriko Camera 1 लाख
Solu Camera 5 लाख
Lite Beauty Camera 10 लाख
Beauty Collage Lite 5 लाख
Beauty and Filters camera 10 लाख
Photo Collage and beauty camera 1 लाख
Gaty Beauty Camera 5 लाख
Pand Selife Beauty Camera 50 हजार
Cartoon Photo Editor and Selfie Beauty Camera 10 लाख
Benbu Seilfe Beauty Camera 10 लाख
Pinut Selife Beauty and Photo Editor 10 लाख
Mood Photo Editor and Selife Beauty Camera 5 लाख
Rose Photo Editor and Selfie Beauty Camera 10 लाख
Selife Beauty Camera and Photo Editor 1 लाख
Fog Selife Beauty Camera 1 लाख
First Selife Beauty Camera and Photo Editor 50 लाख
Vanu Selife Beauty Camera 1 लाख
Sun Pro Beauty Camera 10 लाख
Funny Sweet Beauty Camera 5 लाख
Little Bee Beauty Camera 10 लाख
Beauty Camera and Photo Editor Pro 10 लाख
Grass Beauty Camera 10 लाख
Ele Beauty Camera 10 लाख
Flower Beauty Camera 1 लाख
Best Selfie Beauty Camera 10 लाख
Orange Camera 5 लाख
Sunny Beauty Camera 10 लाख
Pro Selfie Beauty Camera 5 लाख
Selfie Beauty Camera Pro 10 लाख
Elegant Beauty Cam-2019 50 हजार

ऐप्स में छुपे थे मैलवेयर
सामने आए ऐप्स को कुल 2 करोड़ से ज्यादा बार डाउनलोड किया जा चुका है। WhiteOps की ओर से कहा गया कि इन ऐप्स को यूजर्स के डिवाइस में ढेर सारे ऐड दिखाने के लिए डिजाइन किया गया था। पहला ऐप पब्लिश करने के बाद फ्रॉड करने वालों ने लगभग हर 11वें दिन नया ऐप पब्लिश किया। ज्यादातर ऐसे ऐप्स प्ले स्टोर से हटाए जाने से पहले करीब 17 दिन तक मौजूद रहे। सामने आया है कि इन ऐप्स के apk में 'पैकर्स' का इस्तेमाल कर मैलवेयर्स को छिपाया गया था।

 

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close