बिहारराज्य

गैस रिसाव से घर में लगी आग, 3 सगी बहनों की मौत 

 आरा                                                                                                                                                                                    
बिहार के भोजपुर जिले के आयर थाना क्षेत्र के कुसुम्हा गांव में गुरुवार की सुबह गैस रिसाव से एक घर में आग लग गयी। इसमें तीन मासूम बच्चियों की झुलसने से मौत हो गयी। इन तीनों मृतक बहनों के माता-पिता, चाचा और चचेरी बहन समेत पांच लोग बुरी तरह झुलस गये। सभी का इलाज पटना के पीएमसीएच में चल रहा है। इस हादसे में घर में रखे गये कपड़े व अनाज सहित अन्य सामान भी जल गये। वहीं सिलेंडर का रेगुलेटर अचानक तेज आवाज में उड़ जाने से घर की छत और दीवार भी क्षतिग्रस्त हो गयी। 

यह हादसा अहले सुबह चाय बनाने के दौरान हुआ। मृत बहनों में कुसुम्हा निवासी उदयशंकर राम की पुत्री शिवानी (नौ माह), निधि (ढाई साल) और रीमा (चार साल) शामिल हैं। वहीं उदय शंकर राम, उनकी पत्नी सुनीता देवी, भतीजी पूनम, खुशबू व भाई राकेश कुमार की हालत चिंताजनक बनी हुई है। उदय शंकर राम गैस की होम डिलेवरी करते हैं। हादसे के बाद पूरे गांव में हाहाकार मच गया। 

सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष विजय प्रसाद मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों व सामाजिक कार्यकर्ताओं की मदद से सभी को इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया। बाद में एसडीपीओ श्याम किशोर रंजन व सीओ जयराम प्रसाद सिंह भी पहुंचे और छानबीन की। बताया जाता है कि उदयशंकर राम की पत्नी सुनीता देवी सुबह चाय बना रही थी। गैस चूल्हा जलाते ही सिलेंडर का रेगुलेटर अचानक ब्लास्ट कर उड़ गया और पूरे घर में आग लग गयी। इसकी चपेट में आने से दंपती व तीनों बच्चियां बुरी तरह झुलस गयीं। उन्हें बचाने  के चक्कर में भाई व भतीजी भी आग की चपेट में आकर झुलस गयी। ब्लास्ट इतना जोरदार था कि कमरे की छत टूट गयी। बगल की दीवार भी क्षतिग्रस्त हो गयी।

निजी वाहनों से सभी झुलसे लोगों को पहुंचाया गया अस्पताल
सिलेंडर का रेगुलेटर विस्फोट कर उड़ने और आग लगने की सूचना से पूरे कुसुम्हा गांव में अफरातफरी मच गयी। बड़ी संख्या में ग्रामीण पहुंच गये और बचाव कार्य शुरू कर दिया गया। इसके बाद लोजपा नेता प्रेमचंद यादव, राजद नेता हरिचरण यादव व अप्पू यादव के प्रयास से सभी को इलाज के लिए ऑटो और मैजिक गाड़ी से आरा सदर अस्पताल ले जाया गया। वहां प्राइमरी इलाज के बाद सभी को  चिंताजनक हाल में पटना रेफर कर दिया गया। इसके बाद पूर्व विधायक भाई दिनेश की पहल पर सभी को पीएमसीएच भेजवाया गया। पूर्व विधायक भी पीएमसीएच पहुंचे। हालांकि पीएमसीएच पहुंचते ही उदयशंकर राम की तीनों बेटियों ने दम तोड़ दिया। 

इधर, पूर्व विधायक व लोजपा नेता प्रेमचंद यादव सहित अन्य ने घटना पर गहरा दु:ख प्रकट करते हुए आपदा प्रबंधन के तहत मृतक के परिजनों को चार-चार लाख रुपये, पारवारिक लाभ के तहत 20 हजार रुपये, कबीर अंत्येष्टि के तहत तीन हजार रुपये और गैस कंपनी की और से छह-छह लाख रुपये दिलाने की डीएम से मांग की है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close