देश

गॉर्डन चांग ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग पर निशाना साधा 

नई दिल्ली 

 कोरोना महामारी के बीच LAC पर भारत और चीन के बीच तनाव कायम है. एक महीने से ज्यादा समय से जारी इस तनाव के बाद लोगों के मन में यही सवाल है कि आखिर बीजिंग क्या सोच रहा है. अब तक लोगों ने चीन को लेकर सेना से जुड़े लोगों की राय जानी, लेकिन अब मौका है कि उस शख्स से जानने का जो चीन की राजनीति और वहां के समाज को बेहतर ढंग से समझता है. जी हां, हम लेखक गॉर्डन चांग की बात कर रहे हैं. गॉर्डन चांग चीन और हांगकांग में दो दशक से ज्यादा समय तक रहे हैं. उन्होंने Coming collapse of China नाम से एक किताब भी लिखी है.

 टीवी के शो न्यूजट्रैक में शिरकत करते हुए गॉर्डन चांग ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग पर सीधा निशाना साधा. कोरोना महामारी के बीच ऐसी क्या चीज है जिससे चीन सीमा पर तनाव बढ़ाने को मजबूर हो रहा है. इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि कई चीजें हो सकती हैं. हमें ये बात समझना होगा कि वे अभी-अभी कोरोना महामारी से बाहर निकले हैं. मुझे पता है कि वे इसे लेकर संवेदनशील होंगे. चीन फिलहाल दुनिया में कोरोना वायरस पर हो रही चर्चा से ध्यान भटकाना चाह रहा है. फिर भी शी जिनपिंग इस समय कई देशों पर निशाना साध रहे हैं. इसमें भारत ही नहीं, साउथ चाइना सी, अमेरिका, पश्चिमी यूरोप के कई देश शामिल हैं. ये उनके एक लंबे कार्यक्रम का हिस्सा है. गॉर्डन चांग ने कहा कि ये बहुत खतरनाक है, क्योंकि शी जिनपिंग अगर विफल होते हैं तो उन्हें लगता है कि वो सत्ता खो सकते हैं. वो कुछ भी करने में सक्षम हैं.

सिकुड़ रही है चीन की अर्थव्यवस्था
कोरोना महामारी के बाद चीन में और वहां की कम्युनिस्ट पार्टी के अंदर क्या चल रहा है इसपर गॉर्डन चांग ने कहा कि हमें पहले चीन की अर्थव्यवस्था को देखना होगा. जो लगातार सिकुड़ रही है. चीन के लोग नाखुश हैं. उन्हें नहीं पता क्या होगा. और शी जिनपिंग की पॉलिसी साल 2019 में चीन के लिए खराब परिणाम लाई. शी जिनपिंग के पास बहुत कम लोग हैं जिनको वो दोष दें. क्योंकि पूरी सत्ता तो उन्हीं के पास है. इसका मतलब है कि वह जिम्मेदार हैं. वो जीत चाहते हैं. और ऐसे में वह भारत से उसके क्षेत्र पर कब्जा करना चाहते हैं. और उसको चीन के लिए एक जीत के तौर पर दिखाना चाहते हैं.

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close