छत्तीसगढ़

ग्रामीण अंचल मेंं बायोगैस संयंत्र की स्थापना में आई गति

रायपुर। राज्य सरकार द्वारा ग्रामीण जीवन को सरल और सुगम बनाने के लिए तैयार की गई योजना पर जहां अमल शुरू होचुका है वहीं दूसरी ओर ईधन की समस्या से निजात पान क्रेडा के द्वारा बायोगैस संयत्र की स्थापना की जा रही है।
सूरजपुर जिले में क्रेडा विभाग द्वारा पिछले 2 वर्षों में लगभग 500 घरेलू बायोगैस संयंत्र की स्थापना की जा चुकी है। जिससे ग्रामीण परिवारों को भोजन पकाने हेतु पर्याप्त मात्रा में स्वच्छ ईधन मिल रहा है। ईंधन के साथ ही संयंत्र से बचे हुए अपशिष्ट को जैविक खाद के रूप में भी उपयोग किया जा रहा है। जो कृषकों के लिए बेहद ही लाभकारी है। इससे किसानों को उर्वरक की बचत तो हो ही रही है। साथ में सस्ती व उपयोगी जैविक खाद भी मिल रहा है। क्रेडा द्वारा निरंतर इस क्षेत्र में  कार्य किया जा रहा है। विभाग द्वारा योजना का विस्तार करके और अधिक ग्रामीणों को लाभ पहुॅचाने का लक्ष्य बनाया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close