छत्तीसगढ़

चाकू दिखाकर मेटाडोर-ट्रक लूट, अपहरण के 7 आरोपी गिरफ्तार

रायपुर
राजधानी के आसपास चाकू दिखाकर डकैती, ट्रक लूट व अपहरण की दो बड़ी घटनाओं को अंजाम देने वाले 7 युवक पकड़े गए। पुलिस ने उनके कब्जे से लूट की मेटाडोर-ट्रक, दोनों वाहनों में लोड फार्चून-चॉकलेट, कार, बाइक, 6 बटनदार चाकू, 3 मोबाइल व नगदी जब्त की है। जब्त सामानों की कीमत करीब 52 लाख रुपये आंकी गई है, पूछताछ जारी है।

पकड़े गए आरोपियों में शंकर ताण्डी (22) बीएसयूपी कालोनी खालबाड़ा सड्डू, अजय देवांगन (35) शास्त्री नगर फोकट पारा देवेन्द्र नगर, उत्तम चक्रवर्ती (29) गांधी नगर पंडरी, जयराम बघेल (20)बीएसयूपी खालबाड़ा सड्डू, राकी राणा (22)देवेन्द्र नगर, कुलदीप सिंह (30)अनुराग पंडरी, जीतू पान (22) तरूण नगर पंडरी शामिल हैं। ये सभी युवक आदतन अपराधी बताए जा रहे हैं। पुलिस इन दोनों घटनाओं को लेकर मामला दर्ज कर जांच में लगी थी। पुलिस को इस दौरान 6 किमी के दायरे में सीसीटीवी फुटेज खंगालने के बाद सफलता मिली। सभी 7 आरोपी पकड़ लिए गए।

पुलिस ने बताया कि सहदेव सिंह राजपूत ने विधानसभा पुलिस  में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि वह ग्राम डोमाडीह कनकबिरा रायगढ़ का निवासी है तथा ड्राइवरी करता है। 14 जून को वह एक ट्रक में फार्चुन प्रभात टाकिज तेलघानी अन्नपूर्णा ट्रांसपोर्ट रायपुर से भरकर अपने कंडक्टर अमर नाथ के साथ रायगढ़ जा रहा था। रिंग रोड नं. 3 ग्राम बरौदा के पास गाड़ी पंचर हो गई। इसकी जानकारी उसने ट्रक से नीचे अपने सेठ अनिल अग्रवाल को फोन पर दी। वहीं साथी ड्राइवर ओम से वह स्टेपनी के बारे में बात कर ही रहा था कि ट्रक को कोई अज्ञात व्यक्ति कंडक्टर अमर नाथ को डरा-धमकाकर उसका अपहरण करते हुए ट्रक समेत धरसींवा की ओर ले भागा। ट्रक की कीमत 10 लाख रुपए एवं फॉर्चून की कीमत 3 लाख रुपये आंकी गई थी।

दूसरी घटना मंदिरहसौद थाना क्षेत्र की है। अनिल भारद्वाज निवासी ग्राम कनेरी गाजीपुर यूपी ने ट्रक लूट की मंदिरहसौद पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। उसने पुलिस को बताया था कि 10 जून की रात वह ट्रक लेकर जलगांव महाराष्ट्र पहुंचा। वहां से वह चाकलेट भरकर कलकत्ता पहुंचाने के लिए निकला था, तभी 12 जून की आधी रात वह रिलायंस पेट्रोल पंप उमरिया थाना मंदिरहसौद के पास ट्रक को रोड किनारे खड़ा कर अपने कंडक्टर राहुल भारद्वाज के साथ लघुशंका के लिए चला गया। इसी समय एक सफेद रंग की कार ट्रक के पास पहुंची और उसमें से चार लोग नीचे उतरे। दो कंडक्टर को पकड़कर कार में बैठाने लगे और दो ट्रक में बैठकर उसकी तलाशी लेने लगे। इस दौरान वे चाकू दिखाकर डराते-धमकाते हुए कंडक्टर की जेब में रखे 20 हजार रुपए नगद, मोबाइल, ट्रक एवं ट्रक में लोड चॉकलेट लेकर फरार हो गए। इसकी कीमती 12 लाख 35 हजार रुपए आंकी गई थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close