देश

चीनी सैनिकों को धूल चाटने वाले घायल जवानों की आर्मी चीफ नरवणे

लद्दाख
सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने मिलिट्री हॉस्पिटल में बहादुर सैनिकों से मुलाकात की है। वह आज ही दो दिवसीय दौरे पर लेह पहुंचे हैं। मिलिट्री अस्‍पताल में वे जवान भर्ती हैं जो 15-16 जून को गलवाान घाटी में चीनी सैनिकों से लोहा लेते घायल हुए थे। आर्मी चीफ ने इन बहादुर जवानों से बातचीत कर उनका हाल जाना और उनके जल्‍द ठीक होने की कामना की। आर्मी चीफ ने इन सैनिकों से उस रात हुए घटनाक्रम के बारे में भी जानकारी ली।

अब शुरू होगा असली दौरा
आर्मी चीफ का लेह दौरा सही मायनों में अब शुरू होगा। मिलिट्री अस्‍पताल के बाद, वह XIV कॉर्प्‍स के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल हरिंदर सिंह से मुलाकात कर सकते हैं। सिंह वही अधिकारी हैं जिनके साथ सोमवार को चीनी सेना के अधिकारी ने 12 घंटे तक बातचीत की थी। ले. सिंह इस बातचीत का ब्‍यौरा आर्मी चीफ के सामने रखेंगे। साथ ही आगे किस तरह नेगोशिएट किया जाए, इसे लेकर भी आर्मी चीफ गाइडेंस दे सकते हैं। शीर्ष सैन्य कमांडरों के दो दिवसीय सम्मेलन के अंतिम सत्र में शामिल होने के तुरंत बाद जनरल नरवणे लेह के लिए रवाना होंगे। सोमवार को शुरू हुए सम्मेलन में कमांडरों ने पूर्वी लद्दाख की स्थिति पर गंभीर चर्चा की थी।