देश

चीन विवाद: सेना ने जारी की तस्वीर और नाम, संघर्ष में 20 जवान शहीद

 
नई दिल्ली 

लद्दाख बॉर्डर के पास गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ संघर्ष के दौरान भारत के 20 जवान शहीद हो गए. करीब चार दशक के बाद चीनी बॉर्डर पर किसी सैनिक की जान गई है और इस घटना से पूरे देश में गुस्सा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत देश के दिग्गज नेताओं ने जवानों को श्रद्धांजलि दी है, साथ ही कहा है कि उनका बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा.

अब बुधवार के बाद से लद्दाख के पास से सभी शहीद जवानों के पार्थिव शरीर उनके घर वापस लाए जा रहे हैं. सेना की ओर से 20 जवानों की तस्वीरें और नाम भी जारी कर दिए गए हैं. जिनमें कर्नल संतोष बाबू से लेकर कई हवलदार और सिपाही भी शामिल हैं.

1. कर्नल संतोष बाबू, हैदराबाद

2. नायब सूबेदार नुदूराम सोरेन, मयूरभंज

3. नायब सूबेदार मंदीप सिंह, पटियाला

4. सूबेदार सतनाम सिंह, गुरदासपुर

5. हवलदार के. पलानी, मदुरै

6. हवलदार सुनील कुमार, पटना

7. हवलदार बिपुल रॉय, मेरठ

8. दीपक कुमार, रीवा

9. सिपाही राजेश ओरंग, बीरभूम

10. सिपाही कुंदन कुमार, साहिबगंज

11. सिपाही गणेश राम, कांकेर

12. सिपाही चंद्रकांत प्रधान, कंधामल

13. सिपाही अंकुश, हमीरपुर

14. सिपाही गुरबिंदर, संगरूर

15. सिपाही गुरतेज सिंह, मनसा

16. सिपाही चंदन कुमार, भोजपुर

17. सिपाही कुंदन कुमार, सहरसा

18. सिपाही अमन कुमार, समस्तीपुर

19. सिपाही जयकिशोर सिंह, वैशाली

20. सिपाही गणेश हंसदा, ईस्ट सिंघभूमि

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह समेत अन्य नेताओं ने इन शहीद जवानों के लिए श्रद्धांजलि अर्पित की है. चीन और भारत के सैनिकों के बीच 15-16 जून की रात को गलवान घाटी के पास संघर्ष हुआ था. समझौते के तहत चीनी सैनिकों को पीछे हटना था, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया. जब कर्नल संतोष बाबू की अगुवाई में भारतीय सेना की एक टुकड़ी वहां पहुंची, तो दोनों में झड़प शुरू हो गई.

इसी घटना में भारत के 20 जवान शहीद हुए हैं. समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक, चीन के भी करीब 40 जवान हताहत हुए हैं जिनमें एक कमांडिंग अफसर की मौत भी शामिल है. हालांकि, चीन ने इसकी पुष्टि नहीं की है.

 

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close