छत्तीसगढ़

डिजिटल प्लेटफार्म पर मनेगा इस साल अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस

रायपुर
कोविड-19 महामारी के कारण इस वर्ष 21 जून को छठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर सामूहिक कार्यक्रम का आयोजन नहीं होगा और इसे डिजिटल प्लेटफार्म पर मनाया जाएगा। इस वर्ष का थीम योग एट होम एण्ड योग विद फैमिली रखा गया है। 21 जून की सुबह 7 बजे आम जनता अपने घरों से डिजिटल प्लेटफार्म पर योग दिवस समारोह में पूरे विश्व के साथ शामिल हो सकेगी। इस 45 मिनट के सामान्य योग प्रोटोकाल के तहत हजारों लोग शामिल होकर सामूहिक योग प्रदर्शन करेंगे। इस संबंध में समाज कल्याण संचालनालय द्वारा सभी कलेक्टरों को दिशा-निर्देश जारी किये गए हैं। विभाग के अंतर्गत छत्तीसगढ़ योग आयोग द्वारा भी प्रदेश में योग दिवस मनाने के लिए तैयारियां शुरू कर दी गई है।

छठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के डिजिटल कार्यक्रम में शामिल होने और सामान्य योग प्रोटोकॉल की जानकारी आयुष मंत्रालय के सोशल मीडिया प्लेटफार्म में देखी जा सकती है। इस वर्ष योग के प्रति जागरूकता और लोगों की सक्रिय सहभागिता के लिए केन्द्रीय आयुष मंत्रालय और भारतीय संस्कृति संबंध परिषद (आईसीसीआर) द्वारा माई लाईफ माई योगा (जीवन योग) प्रतियोगिता का आयोजन दो चरणों में किया जा रहा है। पहले चरण में देश के भीतर वीडियो ब्लॉगिंग प्रतियोगिता से विजेता चुना जाएगा। इसके बाद वैश्विक पुरस्कार विजेताओं का चयन विभिन्न देशों के बीच से किया जाएगा। इस प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए प्रतिभागियों को क्रिया, आसन, प्राणायाम, बंध या मुद्रा पर आधारित तीन यौगिक अभ्यासों का तीन मिनट का वीडियो फेसबुक, ट्वीटर या इंस्टाग्राम पर हेज माय लाइफ मॉय योगा के साथ अपलोड करना होगा। साथ ही एक छोटे वीडियो संदेश में बताना होगा कि कैसे योग क्रियाओं ने उनके जीवन को प्रभावित किया। आयोजन के संबंध में अद्यतन सूचनाओं के लिए आईएनएनओवीएटीई डॉट एमवॉयजीओवी डॉट इन वेबसाईट का अवलोकन किया जा सकता है।

योग भारत की एक अमूल्य प्राचीन विद्या है। कोविड-19 संक्रमण में योग की प्रासंगिकता और बढ़ जाती है। सामान्य स्वास्थ्य और प्रतिरक्षा वृद्धि में योग का सकारात्मक प्रभाव देखने को मिलता है। वैश्विक स्तर पर भी एक तनाव रिलीवर के रूप में योग की भूमिका स्वीकार की गई। अधिक से अधिक लोगों तक इसका लाभ पहुंचाने के लिए आयुष मंत्रालय कई प्रशिक्षण कार्यक्रम चला रहा है। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर सोशल मीडिया प्लेटफार्मों के साथ-साथ टीव्ही चैनलों पर भी दैनिक आॅनलाईन सत्र चलाए जाएंगे। विभिन्न योग संस्थान भी आॅनलाईन प्रशिक्षण प्रदान करेंगे। आयुष मंत्रालय ने सभी संसाधनों का उपयोग करते हुए अपने और अपने परिवार को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस में पूरे विश्व के साथ आॅनलाईन सहभागिता के लिए कहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close