टीवीमनोरंजन

‘डिप्रेशन, आर्थिक तंगी और ऐक्टिंग के ज्यादा मौके न मिलने के कारण घर लौटे शार्दुल पंडित

मुंबई नगरी..दूर से यह जितनी चकाचौंध भरी और खूबसूरत दिखती है, पास जाने पर उतनी ही काली और एकदम बेगानी। हर साल हजारों लोग ऐक्टर बनने की चाहत लिए मुंबई आते हैं। लेकिन कुछ सफल हो जाते हैं तो वहीं कुछ का संघर्ष शुरू हो जाता है जो शायद खत्म ही नहीं होता।

टीवी ऐक्टर शार्दुल पंडित भी कई सपने लिए मुंबई आए थे। उन्हें मौका भी मिला और उन्होंने 'बंदिनी', 'गोदभराई', 'कितनी मोहब्बत है सीजन 2', 'कुलदीपक' और 'सिद्धि विनायक' जैसे टीवी शोज में काम किया। लेकिन अब उन्होंने मुंबई मायानगरी के साथ-साथ ऐक्टिंग की दुनिया को भी अलविदा कह दिया है। शार्दुल पंडित अपने बैग पैक करके वापस अपने घर इंदौर लौट गए हैं।

शार्दुल पंडित ने कहा कि डिप्रेशन, आर्थिक तंगी और ऐक्टिंग के ज्यादा मौके न मिलने के कारण उनके पास वापस घर लौटने के सिवाय कुछ और ऑप्शन ही नहीं था। बॉम्बे टाइम्स के साथ बातचीत में शार्दुल पंडित ने अपने ऐक्टिंग के सफर और संघर्ष को याद करते हुए कहा, '2012 में यूएई (संयुक्त अरब अमीरात) में एक शानदार नौकरी के चक्कर में मैंने ऐक्टिंग छोड़ दी थी, लेकिन तीन साल बाद मैंने मुंबई वापस लौटने का फैसला किया क्योंकि मुझे कैमरे की याद सताने लगी थी। मैं वापस आ गया और 'कुलदीपक' टीवी शो मिला। इसके अलावा मैंने बॉक्स क्रिकेट लीग भी होस्ट किया। लेकिन वह शो अचानक ही बंद कर दिया गया और मेरे पैसे भी अटक गए। कुछ प्रॉजेक्ट्स को लेकर भी बात चल रही थी, पर बात नहीं बनी।'

पिछले साल शार्दुल कुणाल पंडित बीमार हो गए और इससे स्थिति और बिगड़ गई। उन्होंने कहा, 'मेरे केस में तो 8 महीने का लॉकडाउन हो गया। मैं करीब एक साल से बीमार था। तीन बार पीलिया हो गया। इस कारण 'मुझसे शादी करोगे' रियलिटी शो भी मेरे हाथ से निकल गया। लॉकडाउन से पहले मुझे एक वेब सीरीज का भी ऑफर मिला था, लेकिन उसका भी मुझे कोई आइडिया नहीं कि क्या हो रहा है। मुझे पहले से ही पैसों को दिक्कत हो रही थी। इन तीन महीनों में मेरी सेविंग भी खत्म हो गई थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close