उत्तर प्रदेशराज्य

नगर आयुक्त, मेयर पर गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज

अलीगढ़  
अलीगढ़ में सासनीगेट थाना क्षेत्र के महेन्द्र नगर में गड्ढे में गिरकर डॉक्टर की मौत के मामले में पुलिस ने नगरायुक्त, मेयर समेत छह अधिकारियों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया लेकिन अधिकारियों पर दर्ज मुकदमा चार घंटे बाद ही स्पंज कर दिया गया।

रविवार सुबह महेंद्र नगर में हादसे के बाद मृतक डॉक्टर राजीव की पत्नी रश्मि गुप्ता की ओर से थाने में रिपोर्ट दर्ज करायी गई। रश्मि ने पूरे घटनाक्रम में नगर आयुक्त, महापौर, निर्माण विभाग, जलकर विभाग, दोनों के सम्बंधित अधिकारी, जेई एवं ठेकेदार को दोषी माना है। पुलिस ने तहरीर के आधार पर नामजद सभी अधिकारियों के पद के नाम से मुकदमा लिखा गया। मुकदमे के चंद घंटे बाद ही पुलिस ने मुकदमा स्पंज करने की कार्रवाई शुरू कर दी। पुलिस अधिकारियों का कहना हैं कि परिवार की ओर से लिखित में कहा गया हैं कि उन्होंने त्रुटीवश तहरीर दे दी थी। ऐसे में मुकदमा स्पंज किया जा रहा है।

जितनी तेजी से दर्ज किया मुकदमा, उतनी ही रफ्तार से स्पंज
मामले में तहरीर मिलते ही आनन-फानन में मुकदमा दर्ज कर लिया। मुकदमें में आइएएस अधिकारी तक को नामजद किया गया। लेकिन चंद घंटें बाद ही मुकदमें को स्पंज करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई।

गड्ढे में गिरकर एक डॉक्टर की मौत हो गई है। मामले में डॉक्टर की पत्नी की ओर से तहरीर देकर नगर आयुक्त, मेयर समेत छह के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया था। मुकदमा दर्ज करने के कुछ देर बाद वादी की ओर से दूसरी तहरीर आई। जिसमें उसने बताया कि उसने पहली तहरीर त्रुटीवश दी है। वह मुकदमा नहीं चाहती है। इस पर पुलिस ने मुकदमा को स्पंज किया है।- कुलदीप सिंह गुनावत, एसपी सिटी

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close