दिल्ली/नोएडाराज्य

पार्षद ताहिर के ठिकानों पर ताबड़तोड़ छापेमारी

नई दिल्ली
प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने दिल्ली दंगों से जुड़े धन शोधन (Money laundering) के मामले में आप के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन (tahir hussain aap delhi violence) के ठिकानों सहित कई स्थानों पर मंगलवार को छापेमारी की। अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली, नोएडा और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में कम से कम 6 स्थानों पर छापेमारी की गई।

उन्होंने बताया कि छापेमारी का लक्ष्य मामले में सबूत इकट्ठे करना था। ईडी ने मार्च में आम आदमी पार्टी के निलंबित पार्षद हुसैन, इस्लामवादी समूह पीएफआई और कुछ अन्य लोगों के खिलाफ दिल्ली में हाल ही में हुए दंगों के सिलसिले में धन शोधन और कथित वित्त्पोषण का मामला दर्ज किया था। अधिकारियों ने बताया कि धन शोधन निरोधक अधिनियम (पीएमएलए) के तहत आपराधिक मामला दर्ज किया गया है और इसके प्रावधानों के तहत ही छापेमारी की गई। पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के खिलाफ भी यही आरोप है और उसके खिलाफ अलग से पीएमएलए जांच चल रही है।

क्या है मामला
नागरिकता कानून के समर्थक और विरोध के मद्देनजर बीती 24 फरवरी को उत्तर-पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद, मौजपुर, बाबरपुर, घोंडा, चांदबाग, शिव विहार, भजनपुरा, यमुना विहार इलाकों में सांप्रदायिक दंगे भड़क गए थे। इस हिंसा में करीब 53 लोगों की मौत हो गई थी और 250 से अधिक लोग घायल हो गए थे। साथ ही दंंगों के दौरान कई मकानों, दुकानों, वाहनों, एक पेट्रोल पम्प को फूंक दिया था और स्थानीय लोगों तथा पुलिस कर्मियों पर पथराव किया। दंगों की चपेट में आने से दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल रतन लाल की मौत हो गई थी। वहीं, दंगाईयों ने आईबी अफसर अंकित शर्मा की हत्या करने के बाद उनकी लाश नाले में फेंक दिया था।

ताहिर की छत पर मिले थे पेट्रोल बम
ताहिर हुसैन पर हिंसा भड़काने और आईबी के हेड कांस्‍टेबल की हत्या का आरोप है। दंगों के दौरान हुसैन की घर की छत पर पत्थर, गुलेल और पेट्रोल बम मिले थे। एक वीडियो भी वायरल हुआ था, जिसमें दंगाई छत से पत्थर और पेट्रोल बम नीचे बरसा रहे थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close