देश

पिछले 4 महीनों में 4 टॉप आतंकी संगठनों एनकाउंटर में ढेर

श्रीनगर
घाटी में आतंक के खिलाफ सुरक्षाबलों को बड़ी सफलता मिली है। कश्मीर रेंज के आईजी विजय कुमार ने बताया कि पिछले 4 महीनों में 4 टॉप आतंकी संगठनों लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद, हिज्बुल मुजाहिदीन और अंसार गजवात-उल हिंद के कमांडर अलग-अलग एनकाउंटर में ढेर किए गए हैं।

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान आईजी विजय कुमार ने बताया, 'मैं सुरक्षाबलों को बधाई देता हूं क्योंकि यह पहली बार है जब चार महीने के अंदर चार बड़े आतंकी संगठनों के कमांडर ढेर किए गए हैं। जब नेतृत्व पर हमला होता है तो संगठन भी कमजोर होता है।'

कुलगाम में दो आतंकी ढेर, दो फरार हुए
उन्होंने बताया, 'पिछले दो दिनों में दो सफल ऑपरेशन अंजाम दिए गए हैं। खास बात रही कि इन ऑपरेशन्स के दौरान कोई कोलैटरल डैमेज नहीं हुआ। कुलगाम में शनिवार को मुठभेड़ के दौरान दो आतंकी ढेर किए गए हैं जबकि दो आतंकी फरार हो गए। इनमें से एक पाकिस्तान के पंजाब का रहने वाला है। वह कुलगाम में बीते तीन साल से ऐक्टिव है और आईईडी एक्सपर्ट है।'

कुलगाम में ढेर आतंकियों के पास से मिली एम4 कार्बाइन
जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में आतंकी मुठभेड़ खत्म होने के बाद पुलिस ने इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया। पुलिस को तलाशी के दौरान ढेर हुए आतंकी के पास से भारी मात्रा में हथियार बरामद हुए हैं। आतंकी के पास से एक एके-47, एक एम4 कार्बाइन और एक पिस्टल मिली है। आईजी विजय कुमार ने कहा, 'यह देखने में आया है कि जैश आतंकी एम4 राइफल्स साथ लेकर चलते हैं। एक दिन पहले ढेर किए गए पाकिस्तानी ड्रोन के अंदर से भी एम4 कार्बाइन बरामद हुई थी।'

कठुआ में गिरे पाकिस्तानी ड्रोन का 'अली भाई' कनेक्शन
शनिवार को कुलगाम के लिखड़ीपोरा में सुरक्षाबलों की आतंकियों से मुठभेड़ शुरू हुई थी। पुलिस ने यहां दो आतंकियों को ढेर किया है। आतंकियों के पास से मिले साजो-सामान से उनके जैश-ए-मोहम्मद से होने की आशंका जताई गई है। आईजी विजय कुमार ने बताया, 'कठुआ में गिराए गए ड्रोन के इंटरसेप्ट्स पर 'अली भाई' लिखा हुआ था। हमने जब रेकॉर्ड चेक किए तो पता चला कि पुलवामा में एक पाकिस्तानी आतंकी फुरकान ऐक्टिव है। पाकिस्तानी ड्रोन के जरिए जो एम4 राइफल भेजी जा रही थी वह शायद उसी के लिए रही हो।'

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close