भोपालमध्यप्रदेश

पूर्व मंत्री का आरोप, नियमों की अनदेखी कर कमलनाथ ने दिया था चाइनीज कंपनी को ठेका

भोपाल
उपचुनाव से पहले एमपी की राजनीति चाइना पर शिफ्ट कर गई है। बीजेपी की वर्जुअल रैली के दौरान बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कांग्रेस पर चाइनीज एबेंसी से डोनेशन लेने के आरोप लगाए थे। उसके बाद एमपी बीजेपी के नेता पूर्व सीएम कमलनाथ पर टूट पड़े हैं। पहले बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा ने कमलनाथ पर चाइना के एजेंट होने के आरोप लगाए। अब पूर्व मंत्री अजय विश्वनोई ने कमलनाथ पर संगीन आरोप लगाए हैं।

पूर्व मंत्री और पाटन से विधायक अजय विश्नोई ने सीएम शिवराज सिंह चौहान को एक चिट्ठी लिखी है। उन्होंने चिट्ठी के जरिए पूर्व सीएम पर बहुत ही गंभीर आरोप लगाए हैं। अजय विश्नोई ने कहा कि चीन की एक कंपनी जेटीटी ने 2013 में भारत में अपनी एक शाखा खोली है, जिसका नाम जेटीटी इंडिया प्राइवेट लिमिटेड है। मध्यप्रदेश पावर ट्रांसमिशन कंपनी ने टेंडर नंबर टी TR-19/2019 के विरूद्ध इस कंपनी को दिनांक 17 मार्च 2020 को 271 करोड़ रुपये का एक ठेका दिया है।
 
नियम का हुआ है उल्लंघन
पूर्व मंत्री के आरोपों है कि यह टेंडर कंपनी को डाटा ट्रांसफर करने हेतु फाइबर नेटवर्क की स्थापना करना था। साथ ही टेंडर की शर्तों के अनुसार कुल काम को 3 हिस्सों में बांटा जाना था। L1 को 50 फीसदी, L2 को 30 फीसदी और L3 को 20 फीसदी काम मिलना था। अजय विश्नोई ने आरोप लगाया है कि इस शर्त के हिसाब से काम बंटना तया था। इसलिए कंपनियों ने आपस में मिलीभगत से ज्यादा रेट डालें। चीन की कंपनी ने साथी कंपनियों को धोखा देते हुए तत्कालीन सीएम और उर्जा मंत्री को प्रभावित करके टेंडर की शर्तों की अवहेलना करते हुए 271 करोड़ रुपये का पूरा काम स्वंय ले लिया।
 
रद्द करें टेंडर
अजय विश्नोई ने सीएम शिवराज सिंह चौहान को चिट्ठी लिखी अपील की है कि डाटा ट्रांसफर के लिए स्थापित होने जा रहे फाइबर नेटवर्क की स्थापना का काम चीन की कंपनी को ना दिया जाए। टेंडर की शर्त को उल्लंघन करते हुए पूरा आदेश एक ही कंपनी को दिया गया है। ऐसे में इस आदेश को निरस्त किया जा सकता है।
 
आरोपों पर जवाब
वहीं, चाइना से संबंधों को लेकर लगातार हो रहे हमलों पर कमलनाथ ने भी जवाब दिया है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि बीजेपी वास्तविक मुद्दों से ध्यान हटाने के लिए हमेशा से ही झूठ का सहारा लेती है, झूठे मामलों को उठाकर जनता को गुमराह और भ्रमित करने का काम शुरू से करती आई है। ऐसे मामले में जो झूठे हैं, जिनका कोई आधार नहीं है, जिनका कोई प्रमाण नहीं है, जो वर्षों पुराने हैं। जिनका आज से कोई लेना-देना नहीं है, उसे बीजेपी झूठी हवा देने में माहिर है। ऐसा था तो इतने वर्षों से बीजेपी कहां थी, चुप क्यों थी?
 
कार्रवाई की चेतावनी
वहीं, बीजेपी चाइना को लेकर लगातार कांग्रेस पर हमलावर है। कमलनाथ पर लगातार हो रहे हमले के बीच राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा उनके बचाव में उतर आए हैं। विवेक तन्खा ने ट्वीट कर कहा है कि कमलनाथ जी के तरफ से मैं यह सूचित करता हूं कि विगत कुछ दिनों में उनके विरुद्ध बीजेपी लीडर्स के द्वारा जो भ्रामक दुष्प्रचार फैलाया जा रहा है, ऐसे व्यक्तियों, संस्थाओं और समाचार पत्र के विरुद्ध शीघ्रातिशीघ्र गंभीर कानूनी कार्रवाई की जाएगी, जिसकी पूर्णत: जवाबदेही उनकी होगी।
 

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close