उत्तर प्रदेशराज्य

बच्चे अभी परीक्षा दें अभिभावक नहीं चाहते 

 लखनऊ 
लखनऊ के ज्यादातर अभिभावक नहीं चाहते हैं कि कोरोना संक्रमण के फैलने खतरे के बीच उनके बच्चे परीक्षाएं देने जाएं। अभिभावकों का कहना है कि भारत में जब सिर्फ 100 प्रकरण थे तो संक्रमण से बचाने के लिए बोर्ड परीक्षाएं रद्द कर दी गई थीं।
 
उनका कहना है कि जब संक्रमण तेजी से फैल रहा है। ऐसे में बच्चों की सुरक्षा को खतरे में डालना उचित नहीं होगा। न्यायालय के निर्देश पर काउंसिल फॉर इंडिया स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (सीआईएससीई) ने बच्चों के अभिभावकों से परीक्षाओं के संबंध में राय मांगी है। छात्रों और उनके अभिभावकों को लिखित में अपनी राय स्कूल प्रशासन को सौंपने को कहा गया है। मंगलवार को राजधानी के कई बड़े स्कूलों में अभिभावकों के साथ ऑनलाइन बैठक भी की गई। इसमें अभिभावकों ने अपनी बात रखी।

लॉक डाउन की वजह से स्थगित 10वीं (आईसीएसई) की 2 से 12 जुलाई और 12वीं (आईएससी) की परीक्षाएं 1 से 14 जुलाई के बीच प्रस्तावित हैं। इस संबंध में कुछ अभिभावकों के न्यायालय की शरण में जाने के बाद यह राय लेने की प्रक्रिया शुरू की गई है। 22 जून तक राय रखने का मौका दिया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close