देश

‘बॉलीवुड में नेपोटिज्म’ कीवर्ड का ऑनलाइन सर्च 2000 फीसदी बढ़ा

नई दिल्ली
बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मृत्यु के बाद लोगों के बीच बॉलीवुड में नेपोटिज्म (भाई-भतीजावाद) को लेकर चर्चा शुरू हो गई है। हाल ही के एक स्टडी से पता चला है कि 14 जून को जिस दिन सुशांत की मृत्यु हुई थी और 15 जून को नेपोटिज्म कीवर्ड के सर्च में लगभग 2000 प्रतिशत की वृद्धि हुई। नेपोटिज्म शब्द को मई 2019 से जून 2020 तक कितनी बार सर्च किया गया इसको लेकर SEMrush द्वारा एक स्टडी की गई है। इससे पता चलता है कि इस दौरान हर महीने औसतन 62458 बार नेपोटिज्म शब्द को सर्च किया गया। नेपोटिज्म को सर्च करने पर लोगों से सबसे ज्यादा फिल्म इंड्रस्टी से जुड़ी चीजों को ज्यादा देखा। नेपोटिज्म एक व्यापक रूप से इस्तेमाल किया जाने वाला शब्द है और हर इंट्रस्टी में यह है। हालांकि, जो लोग 'बॉलीवुड में नेपोटिज्म' सर्च करते हैं। वह नेपोटिज्म को फिल्म उद्योग से जोड़ने की कोशिश कर रहे हैं।

एक स्डटी से पता चलता है कि  सुशांत की अचानक मृत्यु के बाद से इस कीवर्ड का सर्च बहुत तेजी के साथ बड़ा है। स्पाइक के बाद 'बॉलीवुड में नेपोटिज्म' कीवर्ड के सर्च में कई बार गिरावट भी आई है।  15 और 16 जनू को इस कीवर्ड का सर्च औसत से केवल 153 प्रतिशत अधिक हुआ। सुशांत की आत्महत्या के बाद क्या का क्या प्रभाव पड़ा, यह समझने के लिए माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विवटर का डेटा भी ट्रैक किया। यह पाया गया कि #NepotismBollywood, #BollywoodBlockedSushant, #JusticeForSushantRajput, और #KaranJoharssBULLY में कई बार ट्वीट किए गए। 17 जून के अंत तक  #NepotismBollywood, #BollywoodBlockedSushant, #JusticeForSushantSinghRajput, और KaranJoatIsBULLY पर ट्वीट्स की कुल संख्या क्रमशः 3,961, 10,520, 36,292, और 10,230 रही। इसके विपरीत 14 जून को हर हैशटैग के तहत किए गए ट्वीट्स की संख्या क्रमशः 1, 0, 32 और 0 थी। स्टडी में कहा गया है कि कई लोग महसूस करते हैं कि फिल्म उद्योग अंदरूनी सूत्रों के पक्ष में झुका हुआ है।
 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close