इंदौरग्वालियरजबलपुरभोपालमध्यप्रदेश

मप्र के अधिकांश हिस्‍सों में मानसून सक्रिय… भोपाल, इंदौर, उज्जैन व सागर संभाग में भारी बारिश के आसार

अलग-अलग स्थानों पर बने वेदर सिस्टम के कारण मध्य प्रदेश के अधिकांश जिलों में बारिश का सिलसिला जारी है। इसी क्रम में राजधानी भोपाल में भी पिछले 24 घंटों के दौरान रुक-रुककर बौछारें पड़ती रहीं। शनिवार सुबह साढ़े आठ बजे तक भोपाल में 2.4 सेंटीमीटर बारिश हुई। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक शुक्रवार को उत्तर-पूर्वी मप्र पर हवा के ऊपरी भाग में बना चक्रवात शनिवार को उत्तर-पश्चिमी मप्र और उसके आसपास सक्रिय हो गया है। मानसून ट्रफ भी सतना, ग्वालियर से होकर गुजर रहा है। इस वजह से अब बंगाल की खाड़ी के अलावा अरब सागर से भी बड़े पैमाने पर नमी आने लगी है। शनिवार को भोपाल, इंदौर, उज्जैन, सागर संभागों में झमाझम बारिश होने की संभावना है। इस दौरान इंदौर, उज्जैन संभागों के जिलों में कहीं-कहीं भारी बारिश भी होसकती है। मौसम विज्ञान केंद्र के वरिष्‍ठ विज्ञानी पीके साहा ने बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान शनिवार सुबह साढ़े आठ बजे तक सतना में 54.5, इंदौर में 48.6, खंडवा में 47, शाजापुर में 45, खजुराहो में 41.8, सागर में 39.6, उज्जैन एवं दतिया में 26.6, उमरिया में 24.8, भोपाल (शहर) में 24.0, गुना में 15.8, नौगांव में 13.4, ग्वालियर में 13.3, धार में 12.2, रतलाम में 13, श्योपुरकलां में 10, भोपाल (एयरपोर्ट) में 7.6, रीवा में 7.4, खरगोन में 5.4, सीधी में 4.6, छिंदवाड़ा में 2.2, होशंगाबाद में 2, जबलपुर में 1.3, मंडला में 1, बैतूल में 0.7, मलाजखंड में 0.6 मिलीमीटर बरसात हुई। साहा ने बताया कि अलग-अलग स्थानों पर सक्रिय वेदर सिस्टम के कारण बंगाल की खाड़ी और अरब सागर से बड़े पैमाने पर नमी आ रही है। इस वजह से प्रदेश के अधिकांश जिलों में बारिश हो रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close