उत्तर प्रदेशराज्य

यूपी बोर्ड रिजल्ट 2020: टॉपर लिस्ट में बेटा, अब सेना में जाने का है सपना, पिता मजदूर

 
प्रयागराज

एशिया के सबसे बड़े बोर्ड के नतीजे शनिवार को घोषित कर दिए गए। इस बोर्ड के एग्जाम में छात्र तो पेपर दे रहा था, लेकिन बाहर बहुत उम्मीदें लगाए उनके माता-पिता उसकी ओर देख रहे थे। उनको यह लगता था मेरा बेटा अच्छे नंबर लाकर मेरे हाथों को मजबूत करेगा। ऐसे ही हैं मुकेश कुमार, जिन्होंने हाई स्कूल की परीक्षा पास की है और प्रयागराज के टॉप टेन टॉपर लिस्ट में चौथे नंबर पर हैं।

मुकेश ने 93.50 प्रतिशत अंक हासिल कर अपने पिता के कंधों को मजबूत किया है। आपको बता दें मुकेश के पिता रामलाल मजदूरी करते हैं। बड़ी मुश्किलों से अपना पेट काट-काटकर मुकेश की पढ़ाई का खर्च उठाते थे। मुकेश के पिता को उनसे काफी उम्मीदें थीं, और मुकेश हाई स्कूल में अच्छे नंबर लाकर अपने पिता की उम्मीदों पर खरे उतर गए।

मुकेश के नंबर लाने के बाद उसके स्कूल वाले भी हुए खुश
मुकेश मां रमदेई इंटर कॉलेज दौलतपुर शिवई प्रयागराज स्कूल में पढ़ते हैं। स्कूल के प्रधानाचार्य अजय सिंह यादव कहते हैं कि मुकेश कुमार की लगन और पढ़ाई की मेहनत देखकर यह लगता है कि वह आगे जाकर पिता का नाम जरूर रोशन करेगा। प्रिंसिपल यह भी कहते हैं सारे बच्चों में इसका लगन पढ़ाई के प्रति बहुत अलग है और पढ़ाई पर बहुत ध्यान देता है। दिल लगाकर पढ़ता है क्योंकि बीच-बीच में जब इसके पास पैसे का संकट पड़ता है तो उसकी मजबूरियां को समझते हुए हम लोग भी अपने की तरफ से हेल्प कर देते हैं। मुकेश के पिता का यह सपना है कि उनका बेटा डॉक्टर बने। लेकिन मुकेश एनडीए में जाना चाहता है।

आपको बता दें मुकेश कुमार के पिता रामलाल के दो बेटे और दो बेटियां हैं। मुकेश कुमार छोटा है, मुकेश के बड़े भाई सूरजभान ने पढ़ाई पूरी कर ली और अपनी मेहनत और लगन से साथ बीएसएफ कॉन्स्टेबल में जगह बना ली। मुकेश के पिता पेशे से मजदूर हैं। अपने बेटों को अच्छा मुकाम देने के लिए काफी मेहनत करते हैं। और मजदूरी से मिले पैसे से उन्होंने अपने दोनों बेटे के जीवन को संवार दिया है। मुकेश कुमार के पिता ने बाहर मजदूरी कर अपना पसीना बहाया तो वहीं उनके दोनों बेटों ने उस पसीने का मोल समझा और पिता की मेहनत की कद्र करते हुए खुद मेहनत कर जीवन में एक मुकाम हासिल कर रहे हैं।
 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close