भोपालमध्यप्रदेश

यूरिया-राशन की कालाबाजारी के खिलाफ CM शिवराज का सख्त रवैया

भोपाल
मध्यप्रदेश में यूरिया और राशन की कालाबाजारी के खिलाफ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सख्त रवैया अपना लिया है. भोपाल में हुई अहम बैठक में उन्होंने सख्त हिदायत दी कि कालाबाज़ारियों को बख्शा नहीं जाए. उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए.सीएम ने कहा कब कितने अधिकारी कर्मचारी सस्पेंड हुए, कब बहाल हुए सारी जानकारी मुझे उपलब्ध कराएं.

मध्य प्रदेश में यूरिया और राशन की कालाबाज़ारी के खिलाफ शासन को लगातार शिकायत मिल रही है. इन पर गौर करते हुए सीएम शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को प्रदेश के आला अफसरों की बैठक बुलायी.इसमें मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस,डीजीपी विवेक जौहरी, अपर मुख्य सचिव गृह राजेश राजौरा, कृषि उत्पादन आयुक्त के के सिंह समेत कई अधिकारी मौजूद थे. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बैठक के दौरान अधिकारियों से कहा कि यूरिया और राशन की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें. दोषियों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाए. सीएम ने कहा मैं इस मामले को गंभीरता से ले रहा हूँ. आप भी सख्ती बरतें. राशन और खाद्य में कालाबाज़ारी शून्य हो ऐसी व्यवस्था आप करें.अपराधियों पर मुक़दमे और उनकी गाड़ियां ज़ब्त करने के निर्देश सीएम ने दिए. बैठक में EOW के अधिकारियों को भी बुलाया गया था. सीएम ने सभी कलकेटर और एसपी को कालाबाज़ारी के विरुद्ध सख़्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं.

बैठक के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कालाबाजारी के खिलाफ अब तक हुई कार्रवाई की डीटेल भी अधिकारियों से तलब कर ली. मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से कहा कि पूरे मामले की समीक्षा बैठकर करें. लगे हाथ उन्होंने कालाबाज़ारी में पहले हुई एफआईआर की जानकारी भी मांग ली. सीएम ने कहा कब कितने अधिकारी कर्मचारी सस्पेंड हुए, कब बहाल हुए सारी जानकारी मुझे उपलब्ध कराएं. जो भी डीलर कालाबाज़ारी कर रहे हैं उनके ख़िलाफ़ सख्त से सख्त एक्शन हो.

पिछले कुछ दिन से प्रदेश के अलग-अलग इलाकों से यूरिया और राशन की कालाबाजारी की शिकायतें सामने आ रही थीं.खासतौर से कोरोना के दौरान गरीबों को बांटे जाने वाले राशन में गड़बड़ी की शिकायत मिल रही थी. इन शिकायतों को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गंभीरता से लेते हुए सभी अधिकारियों को तलब कर लिया.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close