विदेश

यूरोपीय देशों के बाद अमेरिका ने भी पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस की उड़ान पर लगाई रोक

लाहौर 
यूरोपीय देशों के बाद अब अमेरिका ने भी पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (पीआईए) की उड़ानों पर रोक लगा दी है। पायलटों के फर्जी लाइसेंस और सुरक्षा उपायों में कमी को लेकर चिंता जाहिर करते हुए अमेरिका ने पीआईए के विमानों के अपने एयरस्पेस में घुसने पर रोक लगा दी है। जियो न्यूज की खबर के मुताबिक, अथॉरिटी ने कहा, ''पीआईए अपने विमानों का संचालन अमेरिका के लिए नहीं कर पाएगा।'' अमेरिका अथॉरिटी ने कहा है कि पीआईए के सभी तरह के विमानों पर बैन लगाया गया है। पीआईए ने बैन की पुष्टि करते हुए कहा है कि राष्ट्रीय विमानन कंपनी को इस संबंध में एक ईमेल मिला है। एक दिन पहले ही यूरोपीय यूनियन एविएशन सेफ्टी एजेंसी (ईएएसए) ने पाकिस्तान सरकार की विमानन कंपनी पर छह महीने के लिए रोक लगा दी। ब्रिटेन ने तीन एयरपोर्ट्स पर पीआईए को बैन कर दिया है तो वियतनाम ने देश में काम कर रहे सभी पाकिस्तान पायलट्स पर रोक लगा दी है। इसी तरह मलेशिया ने भी पाकिस्तानी लाइसेंस वाले पायलटों पर अस्थायी रोक लगाई है। संयुक्त अरब अमीरात ने भी पाकिस्तानी स्टाफ की जांच शुरू कर दी है।

आतंकवाद सहित कई मुद्दों को लेकर दुनिया में अपनी छवि को बेहद खराब कर चुके पाकिस्तान के लिए यह एक और धब्बा है। सरकारी कंपनी ने फर्जी और संदिग्ध लाइसेंस की वजह से पहले ही अपने एक तिहाई पायलट्स को हटा दिया है। गौरतलब है कि पाकिस्तान सरकार की जांच में देश में मौजूद 860 एक्टिव पायलट में से 262 के लाइसेंस फर्जी पाए गए या उन्होंने परीक्षा नकल से पास की थी। इनमें से आधे से अधिक पीआईए के पायलट थे। इसके बाद कंपनी ने 434 पायलटों में से 141 को तुरंत हटा दिया। कोरोना वायरस की वजह से अभी बेहद सीमित संख्या में अंतरराष्ट्रीय उड़ानें संचालित हो रही हैं। लॉकडाउन के बाद अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के दोबारा शुरू होते ही पीआईए का विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया, जिसमें 98 यात्री मारे गए। इस घटना में भी पायलट की गलती की बात सामने आई है।
 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close