राजनीतिक

राजनीति में रनआउट हुए कैप्टन, नवजोत सिंह सिद्धू बनाये गये प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष

नवजोत सिंह सिद्धू ने आखिरकार कैप्टन अमरिंदर सिंह को राजनीति की पिच पर रनआउट करा ही दिया। सोनिया गांधी ने कैप्टन के तमाम विरोध के बावजूद नवजोत सिंह सिद्धू को पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष नियुक्त कर दिया। उनके साथ ही चार अन्य लोगों को पार्टी का वर्किंग प्रेसिडेंट भी बनाया गया है। पार्टी महासचिव केसी वेणुगोपाल ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने नवजोत सिंह सिद्धू को तत्काल प्रभाव से पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष नियुक्त किया है। इसके अलावा संगत सिंह, सुखविंदर सिंह डैनी, पवन गोयल और कुलजीत सिंह नागरा को वर्किंग प्रेसिडेंट बनाया गया है। वैसे शाम को ही कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ये बयान दिया था कि आलाकमान जो कहेगा उसे मंजूर किया जाएगा। इससे साफ हो गया था उन्होंने हथियार डाल दिये हैं। बाद में नवजोत सिंह ने भी कैप्टन अमरिंदर सिंह से मुलाकात की।

गौरतलब है कि पिछले कुछ समय से पंजाब की राजनीति में हड़कंप मचा हुआ था। मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू के बीच लगातार जुबानी जंग चल रही थी और दिल्ली से आदेश के बावजूद दोनों ही नेता एक दूसरे पर निशाना साधने से नहीं चूक रहे थे। सिद्धू ने ना सिर्फ खुलेआम मुख्यमंत्री के खिलाफ बोलना शुरु कर दिया था, बल्कि मंत्रीपद से इस्तीफा भी दे दिया था। हाल में राहुल गांधी और प्रियंका गांधी से लंबी बातचीत के बाद उनके पक्ष में हवा बनती दिखाई दे रही थी। हालांकि कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अंतिम समय तक विरोध जारी रखा और सोनिया गांधी को लिखी चिट्ठी में ये तक लिख दिया कि नवजोत सिंह की वर्किंग स्टाइल पार्टी को बहुत नुकसान पहुंचाएगी। लेकिन आलाकमान ने आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए पार्टी को एकजुट रखने के लिए यही विकल्प चुना। इसके तहत नवजोत सिंह सिद्धू को पंजाब कांग्रेस की जिम्मेदारी दे दी गई, और कैप्टन अमरिंदर सिंह मुख्यमंत्री का चेहरा रहेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close