उत्तर प्रदेशराज्य

राम मंदिर निर्माण: आरएसएस चलाएगा धन संग्रह अभियान 

 कासगंज  
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए पूरे देश में धन संग्रह के माध्यम से इतिहास रचने जा रहा है। पूरे देश में तहां 44 दिनों में 55 करोड़ रामभक्तों से संपर्क की योजना बनाई गई है। वहीं ब्रज प्रांत में 15 से 30 जनवरी तक यह अभियान चलेगा। संघ परिवार ने ब्रज प्रांत से मंदिर निर्माण के लिए 151 करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्य रखा है। रविवार को संघ परिवार ब्रज प्रांत की कासगंज में आयोजित समन्वय बैठक में कार्ययोजना को अमली जामा पहनाया गया।
समन्वय बैठक में मंचासीन क्षेत्रीय प्रचारक पश्चिम प्रांत आलोक, ब्रज प्रांत डा. हरीश, प्रांत संचालक जगदीश वशिष्ठ और विहिप के केंद्रीय संगठन मंत्री खेमचंद ने कार्य योजना पर विस्तार से चर्चा की। बैठक में केंद्रीय मंत्री संतोष गंगावार, ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा, पशुधन एवं धमार्थ कार्य मंत्री चौ. लक्ष्मीनारायण, लघु एवं सूक्ष्म उद्योग मंत्री चौ. उदयभान सिंह, वित्त राज्य मंत्री संदीप सिंह, जीएस धर्मेश एवं सांसदों में राजवीर सिंह राजू भैय्या, संघ मित्रा और भाजपा बृज क्षेत्र अध्यक्ष रजनी कांत माहेश्वरी समेत सांसदों एवं ब्रज क्षेत्र के विधायकों ने भाग लिया।

जन-जन का होगा मंदिर
विश्व हिंदू परिषद की अगुवाई में प्रारंभ अयोध्या के श्रीराम मंदिर निर्माण की कार्ययोजना में सबसे अहम मंदिर अभियान को जन-जन का बनाने की तैयारी है। ताकि लोग कह सकें कि यह मेरे राम हैं, इस मंदिर को मैंने बनवाया है। कहा गया कि मंदिर आंदोलन के विभिन्न चरणों में अब तक 16.50 करोड़ लोगों की सहभागिता रही है। 1989 में जिन 2.75 लाख गांवों में शिला पूजन हुआ, उन गावों के साथ 1.25 लाख और गांवों में इस बार जन जागरण के माध्यम से पहुंचने की योजना है।

15 जनवरी से शुरू होगा अभियान
बैठक में संघ पदाधिकारियों ने कहा कि अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण दुनिया का अब तक का सबसे बड़ा जन जागरण अभियान होगा। देश के चार लाख गांवों के 11 करोड़ परिवारों के सहयोग से अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण होगा। अगले वर्ष 15 जनवरी को अभियान की शुरुआत होगी और 27 फरवरी को इसका समापन होगा।

अटक से कटक तक एक राष्ट्र
समन्वय बैठक में कहा गया कि श्रीराम मंदिर निर्माण से कश्मीर से कन्याकुमारी और अटक से कटक तक राष्ट्रीय एकता मजबूत होगी। इससे पहले 1989 में राम मंदिर शिला पूजन के माध्यम से देश के 2.75 लाख गांवों तक विश्व हिंदू परिषद पहुंची थी। उस दौरान साढ़े छह करोड़ परिवारों तक संपर्क किया गया था। पिछले बार की तरह इस बार भी अभियान में संघ एवं सभी अनुषांगिक संगठनों के कार्यकर्ता सहयोग करेंगे।

दो सत्रों के मैराथन मंथन में संघ परिवार और विहिप नेताओं की योजना का केंद्र बिंदु अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण की कार्य योजना रही। एटा-कासगंज विभाग के संघ चालक उमाशंकर शर्मा ने बताया कि ब्रज क्षेत्र से 151 करोड़ रुपये श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए संग्रह किए जाएंगे। 10 रुपये, 100 रुपये व एक हजार रुपये के कूपन के माध्यम से धनराशि जुटाई जाएगी। इससे अधिक धनराशि के लिए रसीद की व्यवस्था रहेगी। इस अभियान के जरिये संघ परिवार राम मंदिर से जन-जन का जुड़ाव करने की योजना अमल में ला रहा है। समन्वय बैठक में संघ परिवार के समस्त संगठनों को लक्ष्य से अवगत करा दिया गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close