जबलपुरमध्यप्रदेश

राष्ट्र को समर्पित रीवा अल्ट्रा मेगा सौर उर्जा परियोजना, ढाई साल पहले शिवराज ने किया था शिलान्यास

रीवा
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि आज रीवा ने वाकई इतिहास रच दिया है। रीवा की पहचान सफेद बाघ से रही है अब इसमें एशिया के सबसे बड़ेसोलर पावर प्रोजेक्ट का नाम भी जुड़ गया है। मध्यप्रदेश के लोगों, यहां के उद्योगों से लेकर  दिल्ली में मेट्रो रेल तक को इसका लाभ मिलेगा। वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए एशिया की सबसे बड़ी रीवा अल्ट्रा मेगा सौर उर्जा परियोजना राष्टÑ को समर्पित करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने यह बात कही।  

कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी के वीडियो कांफ्रेसिंग कक्ष से केन्द्रीय उर्जा तथा नवकरणीय उर्जा मंत्री आरके सिंह तथा सचिव भारत सरकार उर्जा मंत्रालय इंदु शेखर चतुर्वेदी भी शामिल हुए।मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहानमंत्रालय स्थित कक्ष से वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए इस आयोजन में शामिल हुए। राज्यपाल आनंदी बेन पटेल भी वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए लखनऊ से इसमें शामिल हुई।  मोदी ने मध्यप्रदेश के कार्य को प्रेरक बताया । उन्होंने भरोसा जताया कि मध्यप्रदेश इस क्षेत्र में अगवाई करता रहेगा। प्रधानमंत्री ने उम्मीद जताई कि  कुसुम योजना में भी मध्यप्रदेश प्रथम आएगा। उन्होंने कहा कि भारत में निर्मित सौर उर्जा उपकरण खरीदे जाए इस दिशा में भी कदम तेजी से बढ़ना है।

उन्होंने एमएसएमई सेक्टर उद्योग क्षेत्र को आत्मनिर्भरता के लिए सौर उर्जा के उपयोग करने का आव्हान किया। प्रधानमंत्री ने मानव जाति को ऐसी परियोजनाओं से पर्यावरण संबंधी लाभ का उल्लेख करते हुए संयंत्र प्रारंभ होंने के लिए बधाई दी। लगभग 45 सौ करोड़  रुपए की लागत की इस 750 मेगावाट क्षमता की परियोजना में पूरी क्षमता के साथ बिजली उत्पादन शुरु हो गया है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 22 दिसंबर 2017 को इस परियोजना का शिलान्यास किया था। परियोजना से सस्ती बिजली का उत्पादन हो रहा है। इस परियोजना को विश्व बैंक का कर्ज राज्य शासन की गारंटी के बिना क्लीन टेक्नालॉजी फंड से सस्ती दरों में दिया गया है। यहां उत्पादित बिजली की दर 2.97 रुपए प्रति यूनिट तय की गई है जो अब तक की सबसे न्यूनतम दर है।

रीवा अल्टाÑा मेगा सौर परियोजना में ढाई सौ मेगावाट की तीन इकाईयां है। ये पर्यावरण के अनुकूल है और इससे प्रतिवर्ष 15.7 लाख टन कार्बन डाई आक्साईड उत्सर्जन रोकी जा रही है।  रीवा के गुढ़ में 1270.13 हेक्टेयर सरकारी जमीन और 335.7 हेक्टेयर जमीन पर यह परियोजना स्थापित की गई है। इस परियोजना का क्रियान्वयन उर्जा विकास निगम तथा भारत सरकार की संस्था सोल एनर्जी कारपोरेशन आॅफ इंडिया की संयुक्त वेंचर कंपनी रीवा अल्ट्रा मेगा सोलर लिमिटैड द्वारा किया जा रहा है। यह देश का एकमात्र सोलर पार्क है।

लोकार्पण समारोह में रीवा सांसद जनार्दन मिश्रा, राजमणि पटेल, रीवा विधायक राजेन्द्र शुक्ल, गुढ़ विधायक नागेन्द्र सिंह, सिरमौर विधायक दिव्यराज सिंह, देवतालाब विधायक गिरीश गौतम, मऊगंज विधायक प्रदीप पटेल, त्योँतर विधायक श्यामलाल द्विवेदी, सेमरिया विधायक केपी त्रिपाठी, मनगंवा विधायक पंचूलाल प्रजापति तथा प्रशासनिक अधिकारी मौजूद थे।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close