छत्तीसगढ़

रोका-छेका हमारी प्राचीन संस्कृति – डहरिया

रायपुर
नगरीय प्रशासन और श्रम मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया ने आज आरंग विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न गांवों का सघन दौरा किया और 93 लाख 22 हजार रूपए के विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण-भूमिपूजन किया। उन्होंने ग्राम सेमरिया में धान खरीदी केन्द्र में चबूतरा निर्माण लागत 19 लाख 97 हजार रूपए का भूमि पूजन किया। डॉ. डहरिया ने ग्रामीणों को कोरोना महामारी से बचाव के उपायों का पालन करने की सलाह दी। उन्होंने विभिन्न गांवों में लोकार्पण और भूमिपूजन के दौरान लोगों को संबांधित भी किया।

मंत्री डॉ. डहरिया ने कहा कि रोका-छेका हमारी प्राचीन संस्कृति है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मंशा के अनुरूप फसलों को मवेशियों से बचाने के लिए और खुले में चराई पर रोक लगाने के लिए 19 जून से 30 जून तक रोका-छेका अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने ग्रामीणों से पशुओं को गौठानों में रखने और खुले में चराई पर रोक लगाने की शपथ लेने की अपील की। डॉ. डहरिया ने ग्राम खोरसी में 14 लाख 93 हजार रूपए की लागत से निर्मित होने वाले गौठान निर्माण का भूमि पूजन और जैतखाम के पास 2 लाख रूपए की लागत से निर्मित चबूतरा निर्माण का लोकार्पण किया। उन्होंने ने ग्राम कुटेला में 14 लाख 69 हजार रूपए की लागत के धान खरीदी केन्द्र में चबूतरा निर्माण और ग्राम अमोदी में 7 लाख 13 हजार रूपए की लागत के धान खरीदी केन्द्र में चबूतरा निर्माण का भूमि पूजन किया।

श्रम मंत्री डॉ. डहरिया ने ग्राम सेजा में 9 लाख रूपए की लागत से निर्मित उचित मूल्य दुकान का लोकार्पण और धान खरीदी केन्द्र में 8 लाख रूपए से निर्मित होने वाले चबूतरा निर्माण का भूमि पूजन किया। उन्होंने ग्राम परसदा में 10 लाख रूपए से निर्मित गौठान, ग्राम तुलसी में 5 लाख रूपए की लागत के नवीन शासकीय हाई स्कूल में छात्रों के लिए फर्नीचर व्यवस्था और ग्राम भैंसमुंडी में 3 लाख रूपए से निर्मित मंगल भवन का लोकार्पण किया। इस अवसर पर जिला पंचायत रायपुर की अध्यक्ष श्रीमती डोमेश्वरी वर्मा, सदस्य श्रीमती दुर्गा राय, जनपद पंचायत आरंग के अध्यक्ष खिलेश देवांगन, सदस्य श्रीमती दिव्या सोनवानी सहित भगवती धुरंधर गणेश राम घृतलहरे, भुवन सिंह वर्मा, पंच-सरपंच तथा ग्रामीणजन उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close