टीवीमनोरंजन

लॉकडाउन ने मुझे धैर्य रखना सिखाया : शरद केलकर

 

अभिनेता शरद केलकर का कहना है कि लॉकडाउन ने उन्हें धैर्य रखना सिखाया है।
शरद ने आईएएनएस को बताया, "लॉकडाउन ने मुझे बहुत धैर्य रखना सिखाया है, क्योंकि मैं इतने दिनों तक घर पर कभी नहीं बैठा।"

अभिनेता एक निपुण डबिंग कलाकार है, उन्होंने पिछले दिनों प्रभास की 'बाहुबली' सीरीज के डब संस्करण में भूमिका के लिए अपनी गहरी आवाज दी है। वह कहते हैं कि वह सकारात्मकता में विश्वास करते हैं।

उन्होंने कहा, "मैं एक बहुत ही सकारात्मक आदमी हूं। अगर मैं 'नरक' की स्थिति में आ जाऊं तो मुझे पता है कि मुझे कैसे बाहर निकलना है। अगर मेरे सामने मुश्किल आती है तो मुझे लगता है कि आगे मेरे लिए कुछ बड़ा और बेहतर है। लेकिन अभी यह एक कठिन समय है और हमें धैर्य रखना सीखना है।"

दूरदर्शन के शो 'आक्रोश' के साथ 2004 में अभिनय के क्षेत्र में कदम रखने वाले अभिनेता ने लॉकडाउन को लेकर कहा, "मुझे अपने परिवार के साथ बिताने के लिए कुछ अच्छा समय मिला, खासकर अपनी बेटी के साथ।"

अभिनय के मोर्चे पर बात करें तो शरद अगली बार अक्षय कुमार-स्टारर 'लक्ष्मी बम' और अजय देवगन-स्टारर 'भुज: द प्राइड ऑफ इंडिया' में दिखाई देंगे।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close