उत्तर प्रदेशराज्य

विकास के एनकाउंटर की सूचना पाकर फूट-फूट कर रोई पत्नी रिचा, चेहरा देखने की लगाई गुहार

कानपुर
हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के एनकाउंटर (Vikas Dubey Encounter) की खबर जैसे ही रिचा दुबे हुई, तो वह फूट-फूट कर रोने लगी। जानकारी के मुताबिक रिचा को पुलिसकर्मियों ने नहीं बताया कि विकास एनकांउटर में मारा गया है। लेकिन रिचा को पुलिसकर्मियों के बर्ताव से अहसास हो गया कि विकास का एनकांउटर हो गया है। इसके बाद रिचा फूटकर रोई। सूत्रों के हवाले से वह पुलिसकर्मियों से कहती रही कि बस एक बार विकास का चेहरा दिखा दो।  गुरुवार शाम एसटीएफ ने लखनऊ के कृष्णानगर से रिचा और और उसके बेटे को पकड़ा था। एसटीएफ कानपुर में किसी अज्ञात स्थान पर रिचा से पूछताछ कर रही थी। वहीं विकास दुबे गुरुवार सुबह मध्य प्रदेश के महाकालेश्वर मंदिर से पकड़ा गया था। मध्य प्रदेश पुलिस ने विकास को यूपी एसटीएफ के हवाले किया था। एसटीएफ का काफिला विकास को लेकर कानपुर आ रहा था। इसी दौरान एक एसटीएफ की गाड़ी पलट गई। मौके का फायदा उठाकर विकास ने पुलिसकर्मी की पिस्टल छीनकर भागने का प्रयास किया। पुलिस ने जब उससे रूकने को कहा तो उसने पुलिस टीम पर फायरिंग कर दी। पुलिस की जवाबी फायरिंग में विकास मारा गया।

इस एनकाउंटर में नवाबगंज इंस्पेक्टर रमाकांत पचौरी समेत तीन लोग घायल हो गए। घायलों को पहले कल्यानपुर सीएचसी भेजा गया। प्राथमिक उपचार के बाद पुलिसकर्मियों को हैलट अस्पताल के रेफर कर दिया गया। वहीं विकास को हैलट अस्पताल भेजा गया, जहां डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। जानकारी के मुताबिक एसटीएफ को रिचा से पूछताछ में कई अहम सुराग लगे। विकास का बैंक अकाउंट और प्रॉपर्टी संबंधी जानकारी इकट्ठा की गई। अब देखने वाली बात यह होगी कि पुलिस रिचा को विकास दुबे का शव देखने को देखने की अनुमति देती है या नहीं। 
 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close