उत्तर प्रदेशराज्य

सड़क हादसों के मद्देनजर परिवहन विभाग ने वाहनों की स्पीड कम रखने की एडवाइजरी जारी की

 कानपुर 
कोहरे में ओवरस्पीड और अन्य चीजों की अनदेखी से होने वाले सड़क हादसों के मद्देनजर परिवहन विभाग ने वाहनों की स्पीड कम रखने की एडवाइजरी जारी की है। दिल्ली-आगरा एक्सप्रेस-वे पर अधिकतम स्पीड रात 9 से सुबह  5 बजे के बीच 60 किमी. रखने के लिखित आदेश जारी किए हैं। इसके अलावा अन्य राजमार्गों पर वाहनों की गति रात के समय कम रखने की एडवाइजरी जारी की गई है।  

परिवहन अफसरों ने बताया कि कानपुर-लखनऊ, दिल्ली, प्रयागराज, अलीगढ़ हाईवे पर भी इसी तरह की स्पीड रखने को कहा गया है। रात 2 से सुबह 5 बजे के बीच वाहन चलाने वाले विशेष तौर पर सतर्क रहे। हाईवे पर 40 फीसदी मार्ग दुर्घटनाएं इसी समय होती हैं। सर्दी के मौसम में यह आंकड़ा और बढ़ जाता है। परिवहन के तकनीकी अधिकारियों का कहना है कि सर्दी में भारी वाहनों के चालक कंबल या रजाई ओढ़ लेते हैं। इस वजह से भोर में झपकी आ जाती है और सड़क हादसे हो जाते हैं। इसके अलावा कोहरे में दृष्यता कम हो तो संभव हो कि वाहनों को कहीं किनारे खड़ा कर लें और पार्किंग यानी कि पीली लाइट जला दें। 

 कार्रवाई
परिवहन विभाग ने राजमार्गों पर तय स्पीड से अधिक गति से वाहन चलते मिले तो कामर्शियल हल्के और भारी वाहनों के ओवरस्पीड में चालान किए जाएं। रही बात निजी वाहनों की तो इसके लिए चालन करने वाला खुद जिम्मेदार है और वह सुरक्षा के लिहाज से खुद इन निर्देशों पर अमल करते हुए ड्राइविंग करें।

 टाली जा सकती हैं दुर्घटनाएं
डीके त्रिपाठी, उप परिवहन आयुक्त, कानपुर परिक्षेत्र का कहना है कि सर्दी और कोहरे में वाहन चालकों को जारी की गई एडवाइजरी उन्हीं के लिए हितकारी है। छोटी-छोटी चीजों पर अमल करने से मार्ग दुर्घटनाएं तो टल ही जाती है। इसके अलावा ड्राइविंग करते समय कोई वाहन चालक इन चीजों को अपनाता है तो अपने के अलावा दूसरे को भी सुरक्षित करता है। चाहे उसके वाहन पर सवार लोग हो या फिर दूसरे वाहन के। आम वाहन चालकों से गुजारिश है कि वे लोग कोहरे में वाहनों चालन नियंत्रित होकर करें। 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close