क्रिकेटखेल

साहा के साथ प्लेस्टेशन खेल रहे थे विराट कोहली, जब अश्विन ने सुनाया था वॉर्नर को आउट करने का प्लान

नई दिल्ली
भारतीय ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को स्मार्ट क्रिकेटर माना जाता है। ऑफ स्पिनर के रूप में उनकी क्षमताएं अद्भुत हैं। वह बढ़िया कैरम बॉल डालते हैं। उनके पास स्मार्ट क्रिकेटीय मस्तिष्क है। उन्होंने हाल ही में खुलासा किया कि किस तरह 2017 में ऑस्ट्रेलिया के डेविड वॉर्नर को टेस्ट में आउट करने की रणनीति बनाई गई। बेंगलोर में पहली पारी में भारत 189 रनों पर ढेर हो गया था। नाथन लॉयन ने 8 विकेट लिए थे, लेकिन अश्विन भारत को  दोबारा मैच में वापस लाए। इस मैच में भारत के लिए सबसे  बड़ी बाधा थे डेविड वॉर्नर और स्टीव स्मिथ। अश्विन ने क्रिकबज के साथ एक इंटरव्यू में बताया कि उन्होंने कप्तान विराट कोहली के साथ मिलकर वॉर्नर को आउट करने की रणनीति बनाई थी। 

क्रिकबज़ के साथ अश्विन ने बताया, ''विराट कोहली कमरे में ऋद्धिमाना साहा के साथ प्ले स्टेशन खेल रहे थे। मैं उनके कमरे में गया और कहा कि क्या हुआ विराट नाथन लॉयन को पहली पारी में बहुत विकेट मिल गई। लोगों को लग रहा है कि विकेट में कुछ है। वे सोच रहे हैं कि जब लॉयन को विकेट मिल सकती हैं तो अश्विन को भी मिलनी चाहिए।'' उन्होंने आगे कहा, ''लेकिन मैं अपने ही खोल में रहना चाहता था। मैं डेविड वॉर्नर को 'ओवर द विकेट' गेंदबाजी करना चाहता था। मुझे लगता है कि वॉर्नर और रेनेशॉ ने ऑफ स्पिन गेंदबाजी का काफी अभ्यास किया था। इसलिए मैं उन्हें 'ओवर द विकेट' गेंदबाजी करना चाहता था।'' श्विन ने कहा, ''विराट कोहली ने मेरी बात कुछ देर सुनी और कहा कि वही करो जो करना चाहते हो, मेरा तुम पर पूरा विश्वास है। अगले दिन मैंने ओवर द स्टंप्स गेंदबाजी की। मैंने रफ पैचेज पर गेंद डाली और डेविड वॉर्नर बोल्ड हो गए। पहली पारी में अश्विन को दो विकेट मिले और दूसरी पारी में उन्होंने 41 रन देकर 6 विकेट हासिल किए। भारत ने यह मैच 75 रन से जीता था।
 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close