बिज़नेस

सेंसेक्स 415.06 अंकों की उछाल के साथ शुरुआत 

 नई दिल्ली 
शेयर बाजार में तेजी कायम है। सेंसेक्स 415.06 अंकों की उछाल के साथ 35,146.79 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। वहीं निफ्टी 125.10 (1.22%) अंकों बी बढ़त के साथ 10,369.50 के स्तर पर है। सिप्ला के शेयरों में करीब 6 फीसद की तेजी देखी जा रही है। दरअसल सिप्लाने रेमडेसिविर के जेनेरिक संस्करण सिप्रेमी की पेशकश की है, जिसे अमेरिकी दवा नियामक यूएसएफडीए ने कोविड-19 के मरीजों को आपातकालीन स्थिति में देने की स्वीकृति दी है। इस खबर के बाद उसके शेयरों में तेजी देखने को महल रही है।

9:15 बजे: आज शेयर बाजार बढ़त के साथ खुला।  बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 160.30 अंकों की तेजी के साथ 34,892.03 के स्तर पर खुला तो वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का संवेदी सूचकांक निफ्टी भी दिन के कारोबार की शुरुआत हरे निशान से की। निफ्टी 10,318.75 के स्तर पर खुला।   बीते सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 950.85 अंक या 2.81 प्रतिशत चढ़ा। 
 
बीएसई पर इन्फोसिस,एचसीएल टेक, एशियन पेंट्स, पावरग्रिड, एचसीएल टेक, टाटा स्टील, रिलायंस, एनटीपीसी, एयरटेल, नेस्ले, एचडीएफसी और एसबीआई में तेजी देखी जा रही है। अगर सेक्टोरल इंडेक्स की बात करें आज आईटी को छोड़कर सभी सेक्टर हरे निशान पर कारोबार कर रहे हैं।  निफ्टी बैंक, ऑटो , फाइनेंशियल सर्विसेज, मीडिया, मेटल, प्राइवेट बैंक, एफएमसीजी, पीएसयू बैंक और रियलटी इंडेक्स में तेजी दिख रही है।
 
भू-राजनीतिक घटनाक्रम तथा कोविड-19 महामारी के रुख से इस सप्ताह शेयर बाजारों की दिशा तय होगी। विश्लेषकों ने यह जताई है। विश्लेषकों ने कहा कि इस सप्ताह शेयर बाजारों की दृष्टि से कोई बड़ा घटनाक्रम नहीं है। मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज लि. के खुदरा शोध प्रमुख सिद्धार्थ खेमका ने कहा कि धारणा में सुधार और धन-प्रवाह की स्थिति बेहतर होने की वजह से निकट भविष्य में बाजार की रफ्तार कायम रहेगी। उन्होंने कहा, ''वैश्विक रुख और भू-राजनीतिक घटनाक्रमों के अलावा मासिक वायदा एवं विकल्प के निपटान से बाजार की दिशा तय होगी। 
 
विश्लेषकों का कहना है कि शेयर आधारित गतिविधियों के अलावा वैश्विक बाजारों और विदेशी कोषों के रुख से बाजार की चाल तय होगी। उन्होंने कहा कि इसके अलावा रुपये के उतार-चढ़ाव तथा कच्चे तेल की कीमतें बाजार को प्रभावित करेंगी।  सैमको सिक्योरिटीज एंड स्टॉकनोट के संस्थापक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) जिमीत मोदी ने कहा, '''इस सप्ताह कोई बड़ा घटनाक्रम नहीं है। पूरी दुनिया में बाजार यह आकलन करने का प्रयास कर रहे हैं कि लॉकडाउन में ढील से आर्थिक मांग की स्थिति में क्या सुधार होता है।  उन्होंने कहा कि अभी तक इसको लेकर प्रतिक्रिया मिली जुली है और अभी यह अनुमान लगाना आसान नहीं है कि अर्थव्यवस्थाओं की स्थिति कितनी तेजी से सुधरेगी। 

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close