बिज़नेस

सेंसेक्स 520 अंक की बढ़त के साथ हुआ बंद

मुंबई
 शेयर बाजारों में मंगलवार को लगातार चौथे कारोबारी दिवस तेजी रही और बीएसई सेंसेक्स और एनएसई निफ्टी में 1.5 प्रतिशत से अधिक की मजबूती रही। भारत और चीन की सेनाओं के बीच सीमा पर तनाव कम करने पर सहमति की रिपोर्ट का बाजार पर सकारात्मक प्रभाव पड़ा।तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स 519.11 अंक यानी 1.49 प्रतिशत छलांग लगाकर 35,430.43 अंक पर पहुंच गया।इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 159.80 अंक यानी 1.55 प्रतिशत मजबूत होकर 10,471 पर बंद हुआ।सेंसेक्स के शेयरों में सर्वाधिक लाभ में एल एंड टी रहा।

कंपनी का शेयर करीब 7 प्रतिशत मजबूत हुआ। इसके अलावा बजाज फाइनेंस, इंडसइंड बैंक, एनटीपीसी, पावरग्रिड, महिंद्रा एंड महिंद्रा और एक्सिस बैंक में भी अच्छी बढ़त दर्ज की गयी।वहीं दूसरी तरफ रिलायंस इंडस्ट्रीज, भारती एयरटेल ओर मारुति के शेयर नुकसान में रहे। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘बाजार में नकदी प्रवाह बने रहने के बीच वैश्विक शेयर बाजारों के अनुरूप घरेलू शेयर बाजारों में तेजी रही।’’उन्होंने कहा, ‘‘भारत और चीनी सेना के बीच सीमा पर तनाव कम करने को लेकर सहमति बनने तथा कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बावजूद ठीक होने वालों की दर बढ़ने की खबरों से बाजार पर सकारात्मक प्रभाव पड़ा।’’ आधिकारिक सूत्रों के अनुसार भारत और चीन के शीर्ष सैन्य कमांडरों के बीच सोमवार को हुई बैठक के दौरान दोनों देशों की सेनाएं पूर्वी लद्दाख में टकराव वाले सभी स्थानों से हटने पर सहमत हुई हैं।

सूत्रों ने कहा कि यह बातचीत, ‘‘सौहार्दपूर्ण, सकारात्मक और रचनात्मक माहौल’’ में हुई और यह निर्णय लिया गया कि दोनों पक्ष पूर्वी लद्दाख में टकराव वाले सभी स्थानों से हटने के तौर तरीकों को अमल में लाएंगे। शेयर बाजार के पास उपलब्ध अस्थायी आंकड़ों के अनुसार शुद्ध आधार पर विदेशी संस्थागत निवेशकों ने सोमवार को पूंजी बाजार में 424.21 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे।वैश्विक स्तर पर चीन में शंघाई, हांगकांग, दक्षिण कोरिया में सोल तथा जपान में तोक्यो बाजार बढ़त के साथ बंद हुए।यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरूआती कारोबार में अच्छी बढ़त दर्ज की गयी। इस बीच, घरेलू बाजार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 37 पैसे मजबूत होकर 75.66 पर पहुंच गया।वहीं अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड का वायदा भाव 1.37 प्रतिशत बढ़कर 43.67 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close