बॉलीवुडमनोरंजन

सोशल मीडिया पर ट्रोल हो रहे हैं राम गोपाल वर्मा

फिल्ममेकर राम गोपाल वर्मा हमेशा अपने बेबाक बयानों के कारण सोशल मीडिया पर विवादों में फंस जाते हैं। अब उन्होंने सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के बाद उठी नेपोटिजम की चर्चा पर कुछ ऐसे बयान दिए हैं जिसकी लोग सोशल मीडिया पर खासी आलोचना कर रहे हैं। दरअसल उन्होंने ट्विटर पर बहुत सारे ट्वीट किए हैं जिसमें उन्होंने नेपोटिजम को जायज ठहराते हुए करण जौहर का सपॉर्ट किया है।

सुशांत भी बन जाते इनसाइडर
दरअसल राम गोपाल वर्मा ने उन लोगों की आलोचना की है जो सुशांत सिंह राजपूत की मौत के लिए करण जौहर को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। अपनी पोस्ट में राम गोपाल वर्मा ने कहा है कि अमिताभ बच्चन सहित सभी लोग पहले आउटसाइडर ही थे और अगर सुशांत 15-20 साल और रुक जाते तो वह भी इनसाइडर बन जाते और अपने बेटे को लॉन्च कर रहे होते।

'फिर तो हर आत्महत्या को जायज ठहराजा जा सकता है'
एक ट्वीट में उन्होंने सुशांत की आत्महत्या पर लिखा, 'अगर 12 साल की नाम और शोहरत के बाद भी खुद को बाहरी समझकर सुशांत ने आत्महत्या की है तो उनके स्तर तक नहीं पहुंच पाए 100 ऐक्टर्स का हर रोज आत्महत्या करना जायज ठहराया जाएगा। अगर आपके पास जो है उससे आप खुश नहीं हैं तो आप कभी खुश नहीं हो सकते।'

करण के बचाव में उतरे
जो भी लोग करण जौहर के खिलाफ जहर उगल रहे हैं, उनमें से आधे लोगों को भी नहीं पता कि फिल्म इंडस्ट्री में काम कैसे होता है और आधे ऐसे लोग हैं जो करण की सक्सेस से जलते हैं। ये लोग बेचारे सुशांत की आत्महत्या का सहारा लेकर करण जौहर पर अपनी भड़ास निकाल रहे हैं।

नेपोटिजम का किया सपॉर्ट
नेपोटिजम (भाई-भतीजावाद) पर चल रही बहस के बीच राम गोपल वर्मा ने इसका सपॉर्ट करते हुए लिखा, 'नेपोटिजम के बिना समाज बिखर जाएगा क्योंकि परिवार से प्यार ही समाज का आधार है। जैसे आप दूसरे की बीवी से ज्यादा प्यार नहीं कर सकते और आप दूसरों के बच्चों से भी अपने बच्चों से ज्यादा प्यार नहीं कर सकते।'

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close