राजनीतिक

15 महीनों रही 4D सरकार , कोरोना से बड़ी समस्या कमलनाथ- सीएम शिवराज

भोपाल
 मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पूर्व सीएम और कांग्रेस नेता कमलनाथ पर बड़ा हमला बोला है. उन्होंने कांग्रेस नेता कमलनाथ को “COVID-19 से बड़ी समस्या” बताया. शिवराज चौहान ने कार्यालय में 100 दिन पूरे करने पर लोगों को संबोधित करते हुए कहा, "क्या कमलनाथ कोरोना से लड़ने में सक्षम हैं? वह मध्य प्रदेश में कोरोना की तुलना में एक बड़ी समस्या है. हमने इस संकट का अच्छी तरह से मुकाबला किया." इस दौरान सीएम ने कहा, "हमने विभिन्न योजनाओं के तहत मध्य प्रदेश में गरीबों के खातों में 40,000 करोड़ रुपये जमा किए हैं. क्या कमलनाथ ने यह पैसा लगाया है.

जनकल्याणकारी योजना को बंद कर दिया था
एनडीटीवी की खबर के मुताबिक, सीएम शिवराज चौहान ने कहा कि कांग्रेस नेता कमलनाथ ने तो राज्य में हर जनकल्याणकारी योजना को बंद कर दिया था. हमने इस संकट में भी किसानों की उपज खरीदने के लिए व्यवस्था की है. शिवराज चौहान ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री किसानों की ऋण चुकाने के बारे में झूठ बोलते हैं. सीएम चौहान ने कहा, "कमलनाथ ने बीमा प्रीमियम का भुगतान भी नहीं किया था. हमने सरकार बनाते ही प्रीमियम का भुगतान किया और किसानों के खातों में 2,990 करोड़ रुपये का बीमा जमा कराया है."

कमलनाथ सरकार की 15 महीनों तक 4D सरकार थी
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ और दिग्विजय सिंह पर निशाना साधते हुए कहा कि मध्यप्रदेश में 15 महीनों तक 4D सरकार थी. पहला D-दलाल, दूसरा D-दम्भ, तीसरा D-दुर्भावना और चौथा D- खुद दिग्विजय सिंह थे. मंत्रियों की एंट्री वल्लभ भवन में बंद थी, पर दलालों के लिए आ जाओ आ जाओ का हिसाब था. अब वहां (कमलनाथ-दिग्विजय) को रात भर नींद नहीं आ रही. दोनों में बड़ी बेचैनी है कि बस एक घण्टे के लिए और सीएम बन जाउं.

सिंधिया ने भी साधा निशाना
वहीं 100 दिन की बीजेपी सरकार की उपलब्धि गिनाते हुए सिंधिया ने भी कमलनाथ और दिग्विजय सिंह पर जमकर निशाना साधा. सिंधिया ने पार्टी बदलने के मुद्दे पर कहा कि अभी भी कई चील बैठे हैं जो उन्हें साइड-साइड में नोचने के लिए तैयार हैं. लेकिन कल भी मैंने कहा था टाइगर अभी ज़िंदा है और आज भी कह रहा हूं टाइगर अभी ज़िंदा है. मैंने कांग्रेस में रहते हुए भी आपातकाल का विरोध किया था. मैं हमेशा सच बोलता हूं. सिंधिया ने सीएम शिवराज की तारीफ में कसीदे गढ़ते हुए कहा कि 20-20 घण्टा काम करने वाले शिवराज जैसे जनसेवक को मैं नमन करते हैं. वहीं इससे पहले एक ऐसे मुख्यमंत्री थे, जिन्हें सिर्फ कुर्सी की चिंता थी.

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close