भोपालमध्यप्रदेश

BU चंदन चोरी: फाइलें हुर्इं गायब, आला अधिकारी नहीं ले रहे सुध

भोपाल
बरकतउल्ला विश्वविद्यालय में चंदन के पेड़ों की तादाद कम होती जा रही है। इसकी वजह बीयू से चंदन की लगातार चोरी होना है। इस संबंध में सिक्योरिटी एजेंसी पर जुर्माना लगाने के लिए दो फाइलें चलाई गर्इं, जो अब गायब हो चुकी हैं। बीयू में चोर पेट काटकर छोड़ रहे हैं, ताकि उन्हें मौका मिलने पर उठा सकें।

बीयू में लगातार चंदन के पेड़ों की अवैध कटाई चल रही है। इसके चलते तीन माह पहले तत्कालीन सुरक्षा अधिकारी भरत केसवानी ने साधना सिक्योरिटी एजेंसी पर 25 हजार और 40 हजार रुपए का जुर्माना लगाया था। इसी दौरान सुरक्षा एजेंसी के सुपरवाइजर बीडी चौरसिया चंदन की चोरी करते पकडेÞ गए। सुरक्षा एजेंसी को नोटिस देने पर बीयू कुलपति आरजे राव ने उन्हें सुरक्षा के प्रभार से मुक्त कर दिया। उनके स्थानांतरण के बाद 65 हजार की जुर्माने की फाइलों रजिस्ट्रार अजीत श्रीवास्तव के पास पहुंची। इसके बाद से दो फाइलें गायब हैं। इससे एजेंसी संचालक भी जुर्माना लगने की भय मुक्त हो गए हैं।

बीयू अधिकारी और कर्मचारियों का कहना है कि चंदन की चोरी सुपरवाइजर चौरसिया नहीं कर सकता है। उसके साथ बीयू परिसर में रहने वाले लोग और कुछ बदमाशों की मिलीभगत हो सकती है। इस संबंध में तीन साल पहले तत्कालीन प्रभारी रजिस्ट्रार एचएस त्रिपाठी ने वन विभाग को कार्रवाई करने के लिए लिखकर कार्रवाई करने के लिए कहा था।  

चौरसिया वर्तमान में साधना सिक्योरिटी एजेंसी में कार्यरत था। इसके पहले वह एलाइट प्रिंसिपल सिक्योरिटी भी रहा है। बीयू से एलाइट प्रिंसिपल बाहर होने पर उसने साधना सिक्योरिटी की ज्वॉइनिंग ले ली। चौरसिया ने साधना सिक्योरिटी में शामिल होकर चंदन पेड की चोरी दोबारा से शुरू कर दिया थी। चौरसिया पर वन विभाग अपनी तरफ से कार्रवाई कर रहा है। हालांकि एलाइट प्रिंसिपल पर चोरी की घटनाओं पर अंकुश नहीं लगाने पर करीब 15 हजार रुपए का जुर्माना लगाया गया है, लेकिन बीयू प्रबंधन उक्त राशि की वसूली नहीं कर सका है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close